पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आयोजन:ईश्वर भी हमारे सबसे बड़े शिक्षक : ब्रह्माकुमारी

त्रिवेणीगंज16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
स्थानीय सेवा केंद्र में शिक्षक दिवस मनाते दीदी व श्रद्धालु। - Dainik Bhaskar
स्थानीय सेवा केंद्र में शिक्षक दिवस मनाते दीदी व श्रद्धालु।
  • स्थानीय सेवा केंद्र में शिक्षक दिवस धूमधाम से मनाया गया

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के स्थानीय सेवा केंद्र में शिक्षक दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर केंद्र की संचालिका सुनीति दीदी ने कहा कि हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। इस दिन भारत के द्वितीय राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस के रूप में मनाया जाता है। जो एक महान विद्वान और आदर्श शिक्षक थे। कहा कि 5 सितंबर 1962 से ही देश मे शिक्षक दिवस मनाने की परंपरा शुरू हुई। कहा कि मनुष्य के जीवन मे शिक्षक एवं शिक्षा का विशेष महत्व है । शिक्षा मनुष्य के जीवन का निर्माण करता है लेकिन आज के समय मे योग्य शिक्षक को पहचाना भी कठिन होता जा रहा है। क्योंकि शिक्षक और शिक्षा का व्यवसायीकरण हो चुका है । ऐसे समय पर सर्वश्रेष्ठ शिक्षक परमपिता परमात्मा सर्वश्रेष्ठ शिक्षा राजयोग की शिक्षा ब्रह्माकुमारी शिक्षण संस्थान के द्वारा दी जा रही है जो शिक्षा हमे नर से श्री नारायण एवं नारी से श्री लक्ष्मी पद प्रदान करता है। मौके पर ब्रह्माकुमारी दीदी ने शिक्षक दिवस पर अनेको भाई-बहनों को राजयोग की शिक्षा ग्रहण करने के लिये प्रेरित किया। बताया भगवान भी सर्वोच्च शिक्षक है। जो गीता ज्ञान द्वारा मनुष्य के जीवन को कौड़ी से हीरे जैसा बनाता है । इस मौके पर ब्रह्माकुमारी शिक्षण संस्थान की और से संचालिका एवं शिक्षक सुनीति दीदी को सम्मानित किया गया ।

खबरें और भी हैं...