धर्म-समाज:समाजवाद के प्रवर्तक महाराज अग्रसेन कर्मयोगी थे : संत

त्रिवेणीगंज9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
महाराज अग्रसेन जी की शोभायात्रा निकालते श्रद्धालु। - Dainik Bhaskar
महाराज अग्रसेन जी की शोभायात्रा निकालते श्रद्धालु।
  • संत अग्रसेन महाराज की जयंती पर निकाली गई भव्य शोभायात्रा

विश्व बंधुत्व के प्रतीक संत अग्रसेन महाराज की जयंती पर गुरुवार को त्रिवेणीगंज बाजार में भव्य शोभा यात्रा निकाली गई। अनुमंडल मुख्यालय स्थित धर्मशाला से सुबह छह बजे गाजे-बाजे के साथ शोभा यात्रा निकाली गई। शोभा यात्रा धर्मशाला से निकल कर जनता रोड़, वंशी चौक, मेला रोड होते हुए पुनः धर्मशाला पहुंचकर संपन्न हुई। सुसज्जित वाहन में विराजमान अग्रसेन जी की भव्य झांकी के साथ निकली शोभा यात्रा में शामिल मारवाड़ी समाज की महिलाएं एवं पुरुष हाथों में पताका लहराते हुए एवं जयकारे लगाते चल रहे थे। शोभा यात्रा का सड़क के दोनों ओर से व्यापारियों, दुकानदारों व अग्रवाल समाज सहित अन्य लोगों ने शोभा पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। जयकारों से पूरा शहर गुंजायमान हो उठा। मारवाड़ी सम्मेलन, मारवाड़ी महिला सम्मेलन, मारवाड़ी युवा मंच शाखा त्रिवेणीगंज के सौजन्य से आयोजित कार्यक्रम में समाजसेवी विमल कुमार कयाल ने अग्रसेन महाराज के आदर्शों व सिद्धांतों को प्रतिपादित करते हुए कहा कि महाराज अग्रसेन समांतर पर आधारित आर्थिक नीति अपनाने वाले संसार के प्रथम सम्राट थे। मारवाड़ी समाज एक विश्वास एवं विचारधारा का नाम है। मौके पर सज्जन कुमार संत ने कहा कि समाज वाद के प्रवर्तक अग्र शिरोमणि महाराज अग्रसेन कर्म योगी, लोकनायक एवं पथ प्रदर्शक थे। जिन्होंने देश और समाज को दया, अहिंसा व सहिष्णुता का पाठ पठाया। उन्होंने बताया कि उनके नाम पर लाखों धर्मशाला, चिकित्सा केंद्र, पेयजल समेत जन उपयोगी संस्थाए आज भी इनकी उपस्थिति दर्ज कराती है। कार्यक्रम के दौरान राजकुमार शर्मा, नंदकिशोर चोखानी, डॉ विश्वनाथ सर्राफ, अविनाश अग्रवाल, अनिल सिंघल, प्रकाश केजरीवाल, अजय सर्राफ, मनीष अग्रवाल, विजय अग्रवाल, निरंजन अग्रवाल, सुरेश अग्रवाल, सरिता अग्रवाल, श्वेता गोयल, नीलम भरतिया, बबिता शर्मा, पल्लव अग्रवाल के अलावे दर्जनों मारवाड़ी समुदाय की महिला व पुरुष मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...