पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चोरी:दूल्हे राजा की प्रेमिका से हुई शादी,पहली पति व तीन बच्चे को छोड़ चुकी प्रेमिका को पंचायत में मिली न्याय

त्रिवेणीगंज14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्यार किया तो डरना क्या प्यार किया कौई चोरी नही की छुप छुप के आहे भरना किया.... यह गाना कंचन के प्रेम कहानी को चरितार्थ कर रही है। वादा कर के मुकरना एक प्रेमी को महंगा पड़ गया। जब प्रेमिका ने पंचायत में प्रेमी को वो सब वायदे याद दिलाई जो कभी दोनों ने साथ लिए थे। प्रेमिका तो प्रेम में लिए वायदे को निभाने के लिए तीन बच्चों को भी छोड़ दी। लेकिन प्रेमी अपना वादा भूल गया था।

जिसे भरी पंचायत में याद दिलाया गया। करीब 15 घंटे तक चली प्रेम कहानी की हाईवोल्टेज ड्रामा ने रंग लाई। पंचायत के फैसले से कंचन को न्याय मिल गई और लोग पंचायत के इस फैसले की जमकर तारीफ कर रहें हैं।

दरअसल कुशहा पंचायत स्थित मयूरवा वार्ड एक में सोमवार की रात्रि राघोपुर थाना क्षेत्र के हुलास वार्ड 9 निवासी दूल्हे राजा बाराती और डीजे के साथ शादी करने पहुंचे थे।महिलाएं मंगलगीत में मग्न थी, वरमाला की तैयारी चल रही थी और बाराती-शराती डीजे पर ठुमके लगा रहे थे। उसी वक्त दूल्हे राजा की प्रेमिका मंडप पर पहुंच गई। इस बीच गांववालों के समक्ष अपनी प्रेम की दास्तान बताई और बोली वादा हमसे, फेरे किसी और से......लड़की की आपबीती सुन फौरन ग्रामीणों ने शादी को रुकवा दिया और दूल्हे राजा की पिटाई कर पिता सहित परिजनों को बंधक बना लिया था।

शादी में खर्च रुपए और सामान लौटाएगा दूल्हा
मंगलवार को पंचायत बुलाई गई। जिसमें लड़की की प्रेम दास्तान सुनकर अंतत: पंचायत के फैसले के अनुसार दोनों की शादी करा दी गई। इधर, दूल्हे राजा जहां शादी करने पहुंचे थे, उनके परिजनों का कहना था कि हम दहेज के रूप में 5 लाख रुपए दिए थे और दरवाजा खर्च 2 लाख रुपए हुए। इसके बाद निर्णय हुआ कि दूल्हे राजा शादी में लिया गया सभी सामान वापस करेगा। मंगलवार की शाम उसी जगह पर प्रेमी और प्रेमिका को शादी कराकर विदा कर दिया गया। पंचायत के फैसले के रजामंदी से हुई इस शादी से लोग काफी खुश हैं।

खबरें और भी हैं...