पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दर्दनाक:दहेज नहीं देने पर बाइक से पेट्रोल निकाल पत्नी को जलाया, मौत

उदाकिशुनगंजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विलाप करते मृतका के परिजन। - Dainik Bhaskar
विलाप करते मृतका के परिजन।
  • नयानगर वार्ड-13 की घटना, पूर्णिया जिले के बरहरा कोठी अंतर्गत मालडीहा गांव में है मृतका का मायका, ससुराल वाले हो गए फरार
  • 28 मार्च की घटना, 11 साल पहले हुई थी महिला की शादी

थाना क्षेत्र के नयानगर वार्ड संख्या -13 में पारिवारिक कलह व दहेज नहीं देने पर एक विवाहिता की बाइक से पेट्रोल निकालकर जलाकर हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है। मृतका की पहचान अनुरंजन प्रसाद सिंह उर्फ सिंटू सिंह की पत्नी स्नेहा देवी के रूप में की गई। मायके पक्ष के परिजनों से घिरते हुए देखकर ससुराल पक्ष वालों ने आलमनगर के एक निजी क्लीनिक में मृतका को छोड़कर फरार हो गए। दो दिनाें तक वहां हाईवोल्टेज ड्रामा हुआ। घटना के बाद मृतका का चारों संतान (दो पुत्र और दो पुत्री) की खोजबीन की गई। उनके नहीं मिलने के बाद सोमवार को मायके वालों ने गांव में ही सड़क जाम कर दिया। बाद में सामाजिक पहल पर बच्चों को मृतका मां के सामने उपस्थित कराकर करीब 11 बजे जाम को हटा दिया गया। घटना को लेकर मृतका के भाई ने थाने में केस दर्ज कराया है। पूर्णिया जिले के बरहरा कोठी अंतर्गत मालडीहा निवासी अंजन कुमार सिंह का कहना है कि उनकी बहन स्नेहा की शादी नयानगर वार्ड-13 निवासी अनुरंजन सिंह उर्फ सिंटू सिंह से वर्ष 2010 में हुई थी। 28 मार्च की सुबह नौ उन्हें मोबाइल फोन पर सूचना मिली कि बहन स्नेहा देवी को अनुरंजन सिंह, प्रभाकर सिंह, अभिषेक सिंह, मांडवी देवी ने गाली-गलौज एवं मारपीट कर बदन पर पेट्रोल डालकर आग से जला दिया है। यह सूचना पाकर वह अपने छोटे भाई राजेश सिंह मनखुश के साथ बाइक से उदाकिशुनगंज सरकारी अस्पताल पहुंचा। लेकिन वहां उनकी बहन नहीं थी।

पति समेत 5 पर दर्ज कराया केस

अंजन कुमार का कहना है कि इसी क्रम में पता चला कि उनकी बहन का इलाज आलमनगर में चल रहा है। यह जानकर वे लोग आलमनगर पहुंचे तो एक प्राइवेट क्लीनिक में लावारिस स्थिति में उनकी छोटी बहन स्नेहा देवी मिली। झुलसी हुई बहन को आलमनगर के डॉक्टर ने रेफर किया तो वह उसे लेकर सीधे सदर अस्पताल सहरसा गए। जहां इलाज के क्रम में स्नेहा की मौत हो गई। अंजन ने दावा किया कि अनुरंजन सिंह उर्फ सिंटू, बृजमोहन सिंह, प्रभाकर सिंह, अभिषेक संह, मांडवी देवी आदि ने मिलकर गाली-गलौज करते हुए मारपीट कर बदन पर पेट्रोल डालकर जलाकर उनकी बहन को बुरी तरह से जख्मी कर दिया। जिससे उसकी मौत इलाज के क्रम में हो गई। गांव में चर्चा है कि अनुरंजन सिंह बेवजह अपनी पत्नी के माध्यम ससुराल से प्रायः रुपए की मांग करता रहता था। इससे पूर्व भी कई दफा बाइक खरीदने के नाम पर और मिल लगवाने के नाम पर रुपए की मांग किया था। इसके अलावा पति-पत्नी में अक्सर विवाद भी होते रहता था। सूत्रों की माने तो जलाने के बाद उनलोगों ने स्नेहा को पानी भी पिलाया। इलाज में हरसंभव देर भी की। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें