एफआईआर दर्ज:अज्ञात युवक के शव की पहचान होने के बाद परिजन ने दर्ज कराई प्राथमिकी

वीरपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

वीरपुर थाना क्षेत्र के जगदर गांव स्थित बलान नदी के घटी घाट के समीप गत 4 जनवरी की सुबह शीशम के पेड़ से लटके मिले अज्ञात युवक के शव की पहचान होने के बाद परिजन द्वारा हत्या से संबंधित एफआईआर दर्ज कराई गई है। मृतक भगवानपुर थाना क्षेत्र के बनहारा निवासी गांगो सहनी का 35 वर्षीय पुत्र लालबाबू सहनी था। वह बैंगलोर में टाइल्स मिस्त्री का काम करता था। उसकी पत्नी रानी देवी, पुत्र अभिषेक, भोलू तथा पुत्री आंचल पंजाब में रहते हैं। मृतक कई वर्षों से बाहर रहकर मजदूरी करता था। बीच-बीच में वह घर आता था। मृतक के परिजनों ने बताया कि गत 30 दिसंबर को वह बैंगलोर से घर चला था। परंतु घर पहुंचने से पहले ही उसकी हत्या कर शव को शीशम के पेड़ पर टांग दिया गया।

मृतक लालबाबू एवं रुकमणी के बीच चल रहा था प्रेम प्रसंग
मृतक की भाभी सखी देवी ने वीरपुर थाना को आवेदन देते हुये बताया कि 4 जनवरी की शाम में सरौंजा निवासी लाला सहनी की पत्नी रुकमणी कुमारी ने मुझे मोबाइल पर फोन कर बोली कि जगदर में जो अज्ञात शव मिला है वह आपके देवर लालबाबू की तरह दिखता है। आकर पहचान कर लीजिये। मृतक की भाभी ने बताया कि मृतक लालबाबू एवं रुकमणी के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। इधर दोनों में विवाद चल रहा था। जिसके कारण उसने मेरे देवर को बुलाकर अज्ञात के साथ मिलकर हत्या कर शव को जगदर घटी घाट में चादर से बांध कर पेड़ में लटका दिया।

आराेपी महिला से की जा रही पूछताछ
थानाध्यक्ष समरेन्द्र कुमार ने बताया कि मृतक की भाभी द्वारा दिये गए आवेदन के आलोक में एफआईआर दर्ज किया गया है। आरोपी महिला को राजगीर से लाया गया है, उससे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि आरोपी महिला का मायका जगदर में ही है तथा वह मायके में ही रहती थी। घटना के दिन वह जगदर में थी। उसने पूछताछ में प्रेम करने की बात कबूल करते हुये घटना की रात्रि लालबाबू से मोबाइल पर बात होने की बात कबूल की है। इधर सदर डीएसपी अमित कुमार ने भी आरोपी महिला से पूछताछ की।

खबरें और भी हैं...