परीक्षा आज:12 केंद्रों पर सीडीपीओ की प्रारंभिक परीक्षा, 9669 परीक्षार्थी होंगे शामिल

आरा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के 12 परीक्षा केंद्र पर 15 मई रविवार को बाल विकास परियोजना पदाधिकारी (सीडीपीओ) की प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा होगी। यह परीक्षा एक पाली में दोपहर 12 से दो बजे तक होगी। सीडीपीओ की परीक्षा में 9 हजार 669 परीक्षार्थी शामिल होंगे। डीएम राजकुमार ने कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन को लेकर सभी केंद्राधीक्षकों को कड़ा निर्देश दिया है।

परीक्षार्थियों का मोबाइल फोन और बैग रखने के लिए अलग से जगह देने को कहा हैं। परीक्षा हॉल में प्रवेश करने से पहले परीक्षार्थियों की गहन तलाशी ली जाएगी इसके बाद ही उन्हें परीक्षा हॉल के भीतर इंट्री दिया जाएगा।

परीक्षा अवधि के अंतिम 30 मिनट में किसी भी अभ्यार्थी को टॉयलेट, जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। सोशल डिस्टेंस का अनुपालन करते हुए परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर भारत सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का अनुपालन सख्ती से करने का निर्देश दिया गया है।

सभी परीक्षा केंद्र पर ऑब्जर्वर की नियुक्ति की गई है। परीक्षार्थियों पर नकेल कसने के लिए परीक्षा केंद्र पर मजिस्ट्रेट एवं पुलिस बल की भी तैनाती की जाएगी। सभी को परीक्षा कें दौरान मुस्तैद रहने का आदेश दिया गया।

परीक्षा को स्वच्छ, निष्पक्ष एवं कदाचारमुक्त वातावरण में संपन्न कराने के लिए स्टैटिक दंडाधिकारी-सह-प्रेक्षक, जोनल दंडाधिकारी-सह-गश्ति दल दंडाधिकारी, उड़नदस्ता दल दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गयी है। परीक्षा केंद्र पर जाम की स्थिति नहीं बने इसको लेकर विधि व्यवस्था को चुस्त दुरूस्त करने का भी आदेश दिया गया हैं।

परीक्षा केंद्र पर लगेगा धारा-144
परीक्षा केंद्रों के इर्द-गिर्द धारा-144 प्रभावी ढंग से लागू करने का आदेश दिया गया। परीक्षा केंद्र के 500 मीटर की परिधि में किसी भी फोटो स्टेट की दुकान, साइबर कैफे, पब्लिक टेलीफोन बूथ को बंद रखने संबंधी आदेश भी निर्गत किया गया है।

परीक्षा में मोबाइल फोन, कोई भी लिखित सामग्री, प्रवेश-पत्र पर कोई लेख, सादा कागज, क्लिपबोर्ड, स्लाइड रूल, कैलकुलेटर, ब्लूटूथ उपकरण, डिजिटल डायरी, पामटॉप, पीडीए या कोई अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण परीक्षार्थी लेकर नहीं आएंगे। यदि कोई भी परीक्षार्थी इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के साथ पाया जाता है तो उसे उसी समय परीक्षा से निष्कासित कर दिया जाएगा।

पीएचडी पेपर लीक के मामले में जांच रिपोर्ट नहीं मिलने पर वीकेएसयू ने भेजा स्मार पत्र

पीएचडी प्रवेश परीक्षा का पेपर लीक के मामले में बनाई गई त्री-सदस्यीय जांच कमेटी के द्वारा रिपोर्ट नहीं दिए जाने पर वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय ने स्मार-पत्र जारी किया हैं। कुलसचिव डॉ. धीरेंद्र प्रसाद सिंह ने बताया जांच कमेटी को एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट उपलब्ध कराने को कहा गया है।

गौरतलब हो कि पीएचडी प्रवेश परीक्षा का प्रश्न-वॉयरल होने पर वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय ने एक अप्रैल को त्री-सदस्यीय जांच कमेटी बनाया था। जांच कमेटी को सारे मामले की जांच कर तीन दिनों के भीतर जांच प्रतिवेदन उपलब्ध कराना था। लेकिन अभी तक विश्वविद्यालय को रिपोर्ट उपलब्ध नहीं कराया गया है। जांच कमेटी के संयोजक डॉ जमील अख्तर है।

इन केंद्रों पर होगी परीक्षा
सीडीपीओ की पीटी परीक्षा शहर के 12 केंद्रों पर होगी। इसमें एस बी प्लस टू उच्च विद्यालय मौलाबाग, टाउन प्लस टू विद्यालय डी टी रोड, डॉ नेमीचन्द्र शास्त्री कन्या उच्च विद्यालय बाबू बाजार, राजकीयकृत श्री जैन कन्या पाठशाला प्लस टू उच्च विद्यालय जेल रोड, पयहारी जी महाराज कॉलेज, न्यू पुलिस लाइन रामनगर चंदवा, अल-हाफिज कॉलेज सलेमपुर रोड, तपेश्वर सिंह इंदु महिला महाविद्यालय आरा-पटना बाईपास, आदर्श मध्य विद्यालय मीरगंज, अमीरचंद बालिका प्लस टू उच्च विद्यालय जेल रोड, हित नारायण क्षत्रिय प्लस टू विद्यालय बंधन टोला, हर प्रसाद दास जैन स्कूल डी टी रोड और जगजीवन कॉलेज चंदवा को परीक्षा केंद्र बनाया गया है।

खबरें और भी हैं...