एसपी के निर्देश पर हुई थी छापेमारी:गाड़ी पर लोजपा का बोर्ड लगाकर मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले गए जेल

आराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जगदीशपुर थाना क्षेत्र के दिऊल गांव से हेरोइन खरीद कर पटना ले जाने वाले तीन तस्करों को पुलिस ने शुक्रवार को जेल भेज दिया। तीनों तस्कर पटना जिले के रहने वाले है। इनमें पटना जिले में न्यू बाईपास- नंदलाल छपरा रोड निवासी निरंजन यादव, निखिल राज और न्यू चम्मन चक निवासी रोहित है। जिस बोलेरो गाड़ी पर से पुलिस ने हेरोइन व गांजा बरामद किया था, उस गाड़ी पर उपाध्यक्ष लोजपा (रामविलास) का बोर्ड लगा हुआ था। बोलेरो गाड़ी पर हेरोइन व गांजा होने की सूचना मिलने के बाद एसपी संजय सिंह के निर्देश पर नवादा थाना के थानाध्यक्ष अविनाश कुमार के नेतृत्व में गुरुवार को पुलिस धोबीघटवा पहुंची थी। मजिस्ट्रेट की निगरानी में वाहन चेकिंग कराना शुरू किया। चेकिंग के दौरान बोलेरो गाड़ी से हेरोइन व गांजा बरामद हुआ था। गाड़ी से 52 ग्राम हेरोइन, पांच ग्राम गांजा, छह हजार रुपये और तीन मोबाइल बरामद किये गये थे। निरंजन यादव के ड्राइविंग लाइसेंस और आधार कार्ड के साथ गाड़ी की आरसी बुक और बोलेरो भी जब्त कर ली गयी है। पूछताछ में निरंजन यादव ने जगदीशपुर थाने के दिऊल गांव से 90 हजार रुपये में हेरोइन खरीदने और पटना ले जाने की बात स्वीकार कर ली गयी है।

खबरें और भी हैं...