वारदात:गोली मारने के आरोपित टेलर को हमलावरों ने घेरकर गोलियों से भूना

आरा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वारदात के बाद घटनास्थल पर पहुंची पुलिस। - Dainik Bhaskar
वारदात के बाद घटनास्थल पर पहुंची पुलिस।

टाउन थाना क्षेत्र के भलुहीपुर मोहल्ले में चैता स्वामी मंदिर के सामने शुक्रवार की रात करीब साढ़े ग्यारह बजे में घात लगाए 6-7 हथियारबंद अपराधियों ने एक दर्जी पर फायरिंग कर दिया। फायरिंग में दर्जी को तीन गोली लगी। जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। मृतक मो मोनू, भलुहीपुर मोहल्ला निवासी मो मजीद का पुत्र था। घटना के वक्त मोनू एक शादी में शामिल होने के लिए लिफाफा लेने पैदल जा रहा था।

घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी धरहरा की ओर भाग निकले। गोली चलने की आवाज सुनकर आस-पास के लोग जुटे और मो मोनू को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। जहां चिकित्सकों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। घटनास्थल और मृतक के घर की दूरी करीब 100 मीटर बताई जा रही है।

इस बीच स्थानीय लोगों ने इस कांड की सूचना टाउन थाना की पुलिस को दिया। टाउन थाना की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और जांच में जुट गई। उधर, रात में ही सदर अस्पताल में चिकित्सकों ने शव का पोस्टमार्टम किया, इसके बाद शव को परिजनों के हवाले कर दिया गया।

इस कांड में आरा शहर के ही छह नामजद और चार अज्ञात आरोपियों के खिलाफ टाउन थाना में मोनू के पिता मजीद ने प्राथमिकी किया है। एफआईआर के अनुसार मो मोनू को रमजान में उसके मोहल्ले के कुछ लोगों से झगड़ा भी हुआ था। जिसके प्रतिशोध में शुक्रवार की देर रात को घटना को अंजाम दिया गया। मोनू मोहल्ले के ही एक युवक पर फायरिंग करने का आरोपी भी था।

हत्या के खिलाफ शनिवार की सुबह में सड़क जाम
शनिवार की सुबह मृतक के आक्रोशित परिजनों और स्थानीय लोगों ने शव को लेकर अबरपुल पास सड़क को जाम कर दिया। स्थानीय लोगों की मांग थी कि मृतक के परिजनाें को मुआवजा दिया जाएं। इस घटना में संलिप्त अपराधियों की गिरफ्तारी जल्द की जाए। इस दौरान सुबह दस बजे से ग्यारह बजे तक एक घंटा तक लोेगों ने सड़क जाम किया। इसके बाद टाउन थाना की पहुंची। लेकिन, गुस्साए लोग जाम हटाने के लिए तैयार नहीं थे। वार्ता के दौरान पुलिस ने हत्यारों को शीघ्र गिरफ्तारी और जेल भेजने का भरोसा दिया, तब जाकर लोगों ने जाम हटाया।

मृतक के पिता के फर्द-बयान पर 6 नामजद और 4 अज्ञात पर केस
मृतक के पिता मो मजीद के फर्द बयान पर टाउन थाना में 6 नामजद और 4 अज्ञात लोगों पर एफआईआर दर्ज कराया गया है। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस इस कांड का अनुसंधान कर रही है। हालंकि, पुलिस ने नामजद आरोपियों का नाम खुलासा करने से कतरा रही है। पुलिस नामजद आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी शुरू कर दी है।

वर्ष 2020 में मोनू ने विवाद के बाद नेपाली को मारी थी गोली
वर्ष 2020 में मोनू का भलुहीपुर के मोहम्मद इस्लाम के पुत्र नेपाली उर्फ तालीम से ठेला लगाने को लेकर विवाद हुआ था। इस घटना में मोनू ने नेपाली को गोली मारी थी। दो गोली नेपाली को लगी थी। टाउन थाना के थानाध्यक्ष रामविलास चौधरी ने बताया कि वर्ष 2020 में मोनू ने नेपाली को गोली मारी थी। जिसका एफआईआर दर्ज है।

मोनू की मौत से परिवार में छाया मातम

मोनू पहले ठेला पर बर्फ बेचता था। इसके बाद कपड़ा सिलाई-कटाई का काम करने लगा। मृतक के पिता मो मजीद ने बताया कि भुलुहीपुर मोहल्ले में एक लड़के से ही किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था। जिसको लेकर शुक्रवार की देर रात को मोनू को गोली मारकर हत्या कर दी है। उस समय मोनू लिफाफा खरीदने गया जा रहा था। इसी बीच उसे गोली मार दी।

'प्राथमिकी दर्ज होने के बाद अनुसंधान जारी है। मोनू पर भी आपराधिक मामले दर्ज है।'
- हिमांशु, एएसपी, आरा।

खबरें और भी हैं...