प्रेमी के साथ मिलकर शूटर हायर किए...पति की हत्या कराई:भोजपुर में 90 हजार में दी मारने की सुपारी; प्रेमी से मिलने से रोकता था पति

भोजपुरएक महीने पहले

भोजपुर में एक महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या करवा दी। महिला ने इसके लिए बकायदा 90 हजार रुपए में 5 शूटर हायर किए। दुकान के अंदर घुसकर उन्होंने उसके पति पर गोलियां बरसाईं। इसके बाद इसे एक विवाद बताने की कोशिश की गई। पुलिस ने पत्नी, प्रेमी समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए...

दुकानदार हरिशंकर (45 साल) की हत्या मामले का खुलासा हो गया। दरअसल, आरोपी पत्नी सोनाली देवी (37 साल) का दिनकर से अफेयर चल रहा था। पटना एम्स में इलाज कराने के लिए सोनाली देवी आती थी। यहीं दिनकर (37 साल) से मुलाकात हुई थी। प्रेम प्रसंग में ही दिनकर ने शूटर के जरिए हरिशंकर प्रेमी की हत्या करवा दी।

एम्स में हुआ था प्यार

एसपी संजय सिंह ने बताया कि डेढ़ वर्ष पहले दिनकर और सोनाली एम्स पटना में इलाज के दौरान मिले थे। यहां दोनों का अफेयर शुरू हुआ। प्यार का परवान इतना चढ़ गया था कि मृतक के बेटे को पढ़ाने का जिम्मा प्रेमी ने ही उठा लिया था । आरोपी ने बीटेक की पढ़ाई जहां से की थी। वहां से मृतक के बेटे को बीटेक की पढ़ाई करा रहा है। दोनों का मिलना जुलना घर से लेकर बाहर तक था।

वारदात में शामिल आरोपियों की जानकारी देते एसपी संजय सिंह।
वारदात में शामिल आरोपियों की जानकारी देते एसपी संजय सिंह।

शूटर को दिए थे 90 हजार

दोनों के प्रेम प्रसंग की जानकारी मृतक हरी शंकर प्रेमी को लग गई। कई बार समझाने के बाद भी दोनों की प्रेम लीला नहीं खत्म हुई । इसके बाद सोनाली के पारिवारिक रिश्ते खराब होने लगे थे। इसी बात से नाराज सोनाली का प्रेमी दिनकर सिन्हा ने हरिशंकर को रास्ते से हटाने का फैसला लिया।

हत्या के लिए शूटर को 90 हजार रुपए दिए। इसके बाद राजू, गोलू और हरिओम ने दिनदहाड़े दुकान में घुसकर ताबड़तोड़ गोली मारकर घटना को अंजाम दिया था। घटना के बाद सारा खेल इस तरह खेला गया कि हत्या ट्रक विवाद को लेकर हुई है। लेकिन, पुलिस अधीक्षक ने बताया कि ऐसा अब तक हमारे अनुसंधान में नहीं आया है।

पुलिस की गिरफ्त में सभी आरोपी।
पुलिस की गिरफ्त में सभी आरोपी।

19 जुलाई को हुई थी हत्या

19 जुलाई को दिनदहाड़े दुकानदार हरिशंकर प्रेमी की हत्या उसके दुकान में घुसकर कर दी गई थी। इसका खुलासा भोजपुर पुलिस ने मंगलवार को कर दिया है। इसकी जानकारी देते हुए भोजपुर पुलिस अधिक्षक संजय सिंह ने बताया कि दुकानदार हरिशंकर प्रेमी की हत्या में दुकानदार की पत्नी,प्रेमी समेत पांच लोगों की गिरफ्तारी की गई है। इसमें दो आरोपित पहले से भी पिकअप गाड़ी लूटकांड में शामिल हैं। एक आरोपी बैंक लूटकांड में आरोपी है।

पुलिस ने मृतक दुकानदार की पत्नी सोनाली देवी, दिनकर सिन्हा, हरिओम सिंह, राजू कुमार को गिरफ्तार किया है। इसमें से दो आरोपी राजू और गोलू पर संदेश थाना क्षेत्र में पिकअप लूटने का भी आरोप है। हरिओम पर सोनपुर में बैंक लूट का मुकदमा दर्ज है। जिसके बाद पुलिस तीनों की पहले से तलाश करती आ रही है। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल की गई बाइक को भी बरामद किया है। साथ ही छह मोबाइल भी आरोपियों के पास से मिला है।

सीसीटीवी और फोटो एल्बम के आधार पर हुई गिरफ्तारी

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि संदेश थाना क्षेत्र में पिकअप गाड़ी चार अगस्त को लूटी गई थी। इसके बाद चालक के बयान पर 5 वर्षों का फोटो एल्बम और लगभग 16 सीसीटीवी फुटेज देखा गया। उस आधार पर राजू और गोलू की गिरफ्तारी हुई। ये दोनों दुकानदार हत्याकांड में भी शामिल थे। इसके बाद पुलिस ने हरिओम को गिरफ्तार किया। इसके लिए विशेष टीम का गठन किया गया था। जिसमें एएसपी हिमांशु, मुख्यालय डीएसपी विनोद सिंह, नवादा थाना इंस्पेक्टर अविनाश कुमार, इंस्पेक्टर शंभू सिंह, संदेश थाना प्रभारी दीपक कुमार समेत अन्य सिपाही थे।