मारपीट का मामला:आहर पर बने रास्ते पर अतिक्रमण ले दो पक्षों में मारपीट और फायरिंग

सहार14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मौका मुआयना करती पुलिस। - Dainik Bhaskar
मौका मुआयना करती पुलिस।

स्थानीय सहार थाना क्षेत्र के एकवारी गांव में आहर की सरकारी जमीन पर बने रास्ते को बाधित करने के पूर्व के विवाद में शुक्रवार की देर शाम दो पक्षों के बीच मारपीट हुई। मारपीट के बाद एक पक्ष के द्वारा दहशत फैलाने के उद्देश्य से 4-5 राउंड फायरिंग की गई। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों पक्षों से 1-1 आरोपी को हिरासत में लिया था। जिसे शनिवार को जेल भेज दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार एकवारी गांव निवासी स्वर्गीय चिंतामणि के पुत्र रामेश्वर सिंह और उनके परिजनों का घर आहर के किनारे पर है। अपने घर के सामने आहर की जमीन पर कब्जा के नीयत से गड्ढा खोदकर बांस गाड़ा जा रहा था। रास्ता बाधित होता देख पीछे के घर वाले स्वर्गीय बच्चू लाल सिंह के पुत्र शिवजी सिंह और उनके परिजनों ने इसका विरोध किया जिसके बाद मारपीट शुरू हो गई।

मारपीट में स्वर्गीय बाबूलाल राय के पुत्र श्रीनिवास राय और एक अन्य युवक जख्मी हो गया। मारपीट के दौरान अपना वर्चस्व दिखाने के उद्देश्य से एक पक्ष के द्वारा फायरिंग की गई। घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और त्वरित कार्रवाई करते हुए रामेश्वर सिंह और शिवजी सिंह को हिरासत में ले लिया।

रामेश्वर सिंह के द्वारा शिवजी सिंह सहित 5 लोगों के खिलाफ जबकि शिवजी सिंह के द्वारा रामेश्वर सिंह सहित तीन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई। थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार ने बताया कि दोनों पक्षों की ओर से एक दूसरे पर प्राथमिकी दर्ज कराने के बाद मारपीट के दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है जबकि फायरिंग की घटना की जांच की जा रही है।

आहर की जमीन पर बनी सड़क पर 4 वर्ष से अतिक्रमण
आहर की जमीन पर बने सड़क को अतिक्रमण किए जाने का मामला 4 वर्ष पहले से चल रहा है। रामेश्वर सिंह के परिवार की नजर अपने घर के सामने के आहर की जमीन पर पहले से ही है। शिवजी सिंह के भतीजे आनंद कुमार ने आहर की जमीन के अतिक्रमण किए जाने की शिकायत सहार थाना में की है।

आवेदन में आनंद कुमार ने अतिक्रमण रोकने के लिए कई बार मुखिया और वार्ड सदस्य द्वारा पंचायती किए जाने की बात भी बताई है। थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार ने आवेदन को अंचल कार्यालय को हस्तांतरित कर दिया। जिसके बाद अंचल निरीक्षक दया शंकर झा व अमीन अभिषेक कुमार के नेतृत्व में अंचल की टीम ने स्थल का मुआयना किया। बताया कि अतिक्रमण अस्थाई है, हटाने के लिए इस पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...