कॉलोनी में लगा पानी तो टावर पर चढ़ा पूर्व पार्षद:बक्सर में जलजमाव पर ड्रामा, बोला- कोई नहीं सुन रहा; कूद जाऊंगा

बक्सर5 महीने पहले

बक्सर में पूर्व वार्ड पार्षद मोबाइल टॉवर पर चढ़ गया। वहां से कूद कर जान देने की धमकी देने लगा। घंटों ये हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा। पूर्व वार्ड पार्षद रंजीत श्रीवास्तव इलाके में जलजमाव और नाली-गली की सफाई नहीं होने से नाराज था। उसका कहना था कि वार्ड में नाली व गली की सफाई को लेकर कई बार अधिकारियों और कर्मियों को कहा गया। लेकिन किसी ने उसकी बात नहीं सुनी।

पोल में हिस्सा लेकर खबर पर अपनी राय दे सकते हैं।

ऐसे में वह थक हार कर मोबाइल टावर पर चढ़ गया और अपनी मांग मंगवाने के लिए वहां से कूद जाने की धमकी देने लगा। इधर, इस बात की सूचना मिलते ही अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए। सभी वहां एक-एक कर पहुंचे और पूर्व वार्ड पार्षद को समझा बुझा कर नीचे उतारा। मामला नगर थाना क्षेत्र के वार्ड 20 का है, जहां 5 साल का कार्यकाल बीतने के बाद उसे लोगों की समस्या की याद आई है।

5 साल में कई बार शिकायत की- पार्षद

मोबाइल टावर से कूदकर जान देने की धमकी दे रहे वार्ड पार्षद रंजीत श्रीवास्तव ने नगर परिषद के अधिकारियों पर आरोप लगाया है। कहा कि मैंने पिछले पांच सालों में जलजमाव को लेकर अनेकों बार शिकायत दर्ज कराई। बावजूद इसके कोई सुनवाई नहीं होती। अगर समस्या ऐसी ही रही तो मैं टावर से कूद कर जान दे दूंगा।

पूर्व वार्ड पार्षद ने मोबाइल टावर चढ़कर सुसाइड की दी धमकी।
पूर्व वार्ड पार्षद ने मोबाइल टावर चढ़कर सुसाइड की दी धमकी।

मैंने लोगों की खरी-खोटी सुनी है

उनका कहना है कि 5 सालो से मैं लोगो की खरी-खोटी सुन रहा हूं। सब बातों को दरकिनार कर मैं नगर परिषद से अपील करता रहा पर वो सुनते ही नहीं। हार कर आज मैं ऐसा कदम उठाने पर मजबूर हुआ हूं। वही मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर आला अधिकारी पहुंचे और पार्षद को नीचे उतारा । मौके पर नगर परिषद की जेसीबी भी आ गई है जिससे स्थानीय लोगों में उम्मीद जगी है कि शायद अब उन्हें जलजमाव से निजात मिले।

घंटों ये हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा।
घंटों ये हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा।

बता दें कि वार्ड संख्या 20 के रंजीत श्रीवास्तव ही वार्ड पार्षद थे। कुछ महीने पहले नगर निगम ने उनका कार्यकाल समाप्त करते हुए भंग कर दिया था। ऐसे में अपने कार्यकाल के खत्म होने पर पूर्व वार्ड पार्षद रंजीत श्रीवास्तव को अपने नगर की परेशानियों की याद आई।

खबरें और भी हैं...