सहूलियत:62 करोड़ रुपए की लागत से चौसा में बन रहा निकृष पंप

बक्सर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
निर्माणाधीन निकृष पंप। - Dainik Bhaskar
निर्माणाधीन निकृष पंप।

जिले के चौसा प्रखंड स्थित रामपुर पंचायत अंतर्गत निर्माणाधीन निकृष पंप का डीएम अमन समीर के निरीक्षण के बाद गंगा पम्प के सहायक अभियंता को प्रतिवेदन भेजा गया है। डीएम ने निर्माणाधीन निकृष पंप चौसा का 11 मई को निरीक्षण किया था। डीएम को भेजे गए प्रतिवेदन के अनुसार निर्माणाधीन निकृष पंप में जितने मानव बल लगाए गए हैं वह पर्याप्त नहीं है। जिससे डीएम ने असंतोष जाहिर किया है। निरीक्षण के बाद सहायक अभियंता को आवश्यक दिशा-निर्देश के साथ प्रतिवेदन दिया गया है। जिसमें बताया गया है कि पर्याप्त मात्रा में मानव बल लगाकर तय समय सीमा में कार्य को पूरा किया जाए।

मानव बल असुरक्षित कार्य कर रहा थे जिससे डीएम ने कड़ा रूख अपनाया है। यह भी सुनिश्चित करने को कहा गया है कि कार्य करने के दौरान सुरक्षा के दृष्टिकोण से सभी मानव बल सेफ्टी बेल्ट का प्रयोग करें। ताकि निर्माणाधीन निकृष पंप के कार्य करने के दौरान मानव बल सुरक्षित रह कर कार्य कर सके। जबकि जिला भू अर्जन पदाधिकारी से शीघ्र समन्वय कर भू अर्जन की प्रक्रिया की अद्यतन स्थिति से अवगत कराने का निर्देश भी दिया गया है।

2 हजार 700 हेक्टेयर भूमि होगी सिंचित
निकृष पंप का निर्माण कार्य पूरा हो जाने के बाद चौसा व राजपुर क्षेत्र के 2 हजार 700 हेक्टेयर भूमि पर खेती करना किसानों के लिए सुलभ हो जाएगी। इस पंप का निर्माण कार्य के लिए 2012 में ही मंजूरी मिल गई थी। डीएम के द्वारा लगातार मानिटरिंग करने के कारण यह अनुमान लगाया जा रहा है कि खरीफ की फसल के समय यह कैनल पानी उगलने लगेगा। क्योंकि कैनल का निर्माण कार्य पुरा हो चुका है।

30 तक कार्य पूरा करने का निर्देश
डीएम के निरीक्षण के दौरान निर्माण एजेंसी ने अगस्त तक कार्य पुरा करने के लिए समय सीमा की मांग की गयी थी। परंतु डीएम ने इसी वर्ष 30 जून तक कार्य हर हाल में पुरा कर लेने का निर्देश दिया गया है। फिलहाल खेती करने के लिए इस इलाके के किसान डीजल पंप व मोटर पर निर्भर हैं। जिससे किसानों की फसल तैयार होने पर लागत मूल्य भी आना मुश्किल हो गया है।

निर्माणाधीन निकृष पम्प तैयार हो जाने के बाद पानी उगलना प्रारम्भ कर देगा यंहा के किसानों के लिए खेती आसान हो जाएगी। इसके बाद रामपुर व डिहरी के अलावा राजपुर क्षेत्र के कई गांवों में सिंचाई की सुविधा काफी आसान हो जाएगी।

62 करोड़ की लागत से बन रहा निकृष पंप

बता दें कि चौसा प्रखंड के रामपुर पंचायत अंतर्गत निकृष पंप का निर्माण 62 करोड़ रुपए की लागत से हो रहा है। जिसमें 42 करोड़ रुपए सिविल कार्य पर खर्च किए जाएंगे। बाकी 20 करोड़ रुपए यांत्रिक कार्य पर खर्च किए जाएंगे। हालांकि निर्माणाधीन कार्य की रफ्तार काफी धीमी है। निकृष पंप के निर्माण हो जाने के बाद 1753 मीटर चैनल के माध्यम से चौसा शाखा नहर के रामपुर रजवाहा के 5 किलोमीटर पर ट्रस्ट चैनल के द्वारा सिंचाई के लिए खेतों तक पानी भेजा जाएगा। इसमें 4 पंप लगाए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...