कार्यक्रम:डीएम ने बच्चों से कराया लाइब्रेरी का उद्घाटन, कहा- किताबों से दोस्ती करें युवा ये लक्ष्य तक पहुंचाएगा

सिमरी9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सहियार मध्य विद्यालय के प्रांगण में उपस्थित डीएम। - Dainik Bhaskar
सहियार मध्य विद्यालय के प्रांगण में उपस्थित डीएम।

शनिवार को सिमरी प्रखंड स्थित सहियार मध्य विधायल के परिसर स्थित अभियान विश्वामित्र के तहत निर्मित पुस्तकालय का उद्घाटन डीएम अमन समीर ने किया। इस दौरान एसडीओ कुमार पंकज, बीडीओ अजय कुमार सिंह, सहियार पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि मनोज कुमार उपाध्याय मौजूद थे। डीएम ने सर्वप्रथम स्वागत के लिए उपस्थित स्कूली बच्चों से पुस्तकालय भवन के मुख्य गेट पर रिबन कटवाया और खुद दीप प्रज्ज्वलित कर पुस्तकालय का शुभारंभ किया।

उद्घाटन बाद उन्होंने पुस्तकालय भवन का बारीकी से निरीक्षण किया। यहां जरूरत के अनुसार अन्य किताबें भेजने का भी आश्वासन डीएम के द्वारा किया गया। उन्होंने मौजूद छात्रों से बातचीत करते हुए कहा कि किताबों से दोस्ती करें। ये जीवन पथ पर आगे बढ़ने में बहुत सहायक सिद्ध होंगी। उन्होंने कहा कि समय-समय पर विभाग के अधिकारी यहां निरीक्षण करने आएंगे। सभी बच्चों से कहा कि पुस्तकों का अधिकाधिक लाभ उठाएं।

डीएम से मिलकर स्थानीय विद्यालय के शिक्षक से लेकर छात्र तक काफी उत्साहित दिखे। डीएम अमन समीर ने उपलब्ध किताबों को भी देखा। बच्चों से किताब की जरूरत पर बातचीत की। उपस्थित छात्र-छात्राओं से उनकी तैयारियों के बारे में जाना और आवश्यक सुझाव दिए। डीएम ने कहा कि आपके लिए घर बैठे पढ़ाई की सभी व्यवस्था की गई है। इसके बारे में प्रचार प्रसार करना है। ताकि अधिक से अधिक बच्चे इसका लाभ ले सकें। उन्होंने बच्चों को कहा कि आप लोग यहां आकर इन किताबों से बेहतर ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं।

इंग्लिश में बात करने की दी नसीहत
वही बीडीओ अजय कुमार सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि बच्चों को एक दूसरे से बातचीत में इंग्लिश का प्रयोग करने की नसीहत दी। कहा कि एक दूसरे को अगर विश भी करें तो इंग्लिश में करें। इससे आपकी अंग्रेजी में पकड़ मजबूत होगी। कहा कि इंग्लिश पेपर पढ़ें और उसके स्टोरी से जानकारी हासिल करें। साथ ही अपने लिए एक डायरी बना लें। जिसमें मुख्य बिंदुओं को नोट करते रहें।

इससे आपको आगे की पढ़ाई में सहायता मिलेगी। बच्चों को प्रोत्साहित करते हुए उन्होंने कहा कि अगर आप इन सब बातों पर ध्यान रखेंगे तो आप खुद को इतने कॉन्फिडेंस में पाएंगे कि आप कहीं पर किसी भी चीज में खुद को असहाय महसूस नहीं करेंगे। वही मौके पर डुमरांव प्रखण्ड शिक्षा पदाधिकारी सुरेश प्रसाद भी उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...