पहल:सड़क दुर्घटना को लेकर जिले में बनाए गए 20 ब्लैक स्पॉट, एनएच पर सर्वाधिक 13

दरभंगाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिमरी के शास्त्री चौक के निकट हाईवे किनारे खड़ी दुर्घटनाग्रस्त कार (फाइल फोटो)। - Dainik Bhaskar
सिमरी के शास्त्री चौक के निकट हाईवे किनारे खड़ी दुर्घटनाग्रस्त कार (फाइल फोटो)।
  • घायलाें काे ससमय अस्पताल पहुंचाने के लिए जनप्रतिनिधियों व दुकानदारों की कमेटी बनाई

सड़क दुर्घटनाओं में हो रही वृद्धि के बीच दुर्घटना को रोकने या फिर कम करने को लेकर सूबे के ट्रैफिक आईजी एमआर नायक ने जिले के एसएसपी से रिपोर्ट तलब कर कार्रवाई करने को कहा है। इसके तहत जिले में 20 ब्लैक स्पॉट चिह्नित किए गए हैं। इनमें सर्वाधिक 13 एनएच पर ही हैं। इसके उपाय को लेकर ट्रैफिक डीएसपी बृजु पासवान ने पंचायत के मुखिया, जनप्रतिनिधि, वार्ड सदस्य एवं स्थानीय दुकानदार को मिलाकर एक समिति का गठन किया है। जिसके अध्यक्ष संबंधित क्षेत्र के थानाध्यक्ष है। समिति के द्वारा दुर्घटना होने पर तुरंत सूचित करते हुए चिकित्सकीय उपचार की व्यवस्था भी की जानी है। जिससे घायलाें का समय पर इलाज किया जा सके। शोभन में सीसीटीवी कैमरा लगवाने की कार्रवाई के साथ ही शहर के बाघ मोड़, दिल्ली मोड़, एकमी घाट, चट्टी चौक व पंडासराय का प्रस्ताव भी भेजा गया है।
स्पीड किलोमीटर का लिमिटेशन बोर्ड लगाना सबसे आवश्यक : एनएच को ब्लैक स्पॉट चिह्नित स्थलों पर स्पीड ब्रेकर लगाने के लिए परामर्श एवं सड़क के किनारे साइनेज एवं स्लोगन सहित स्पीड किलोमीटर के लिमिटेशन बोर्ड लगाने को लेकर पत्राचार भी किया गया है। अत्यधिक दुर्घटनाकारित वाले स्थानों का मुआयना रोड कंस्ट्रक्शन डिपार्टमेंट को करना है। साथ ही रोड डिजाइन देखने सहित इससे संबंधित प्रभावकारी कदम भी विभाग को उठाना है।

सिमरी थाना क्षेत्र में 7 जगह चिह्नित किए गए
जिले का सबसे अधिक प्रभावित थाना क्षेत्र एनएच 57 का सिमरी थाना क्षेत्र है। यहां 7 ब्लैक स्पॉट है। वहीं, एनएच सदर थाना अन्तर्गत भी है। इसमें 4, दरभंगा-जयनगर एनएच में केवटी थाना क्षेत्र में 2, यानी एनएच पर कुल 13 ब्लैक स्पॉट बनाए गए हैं। जबकि विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र का बेला मोड़, बहेड़ी, बहेड़ा, बिरौल, बहादुरपुर थाना और मब्बी ओपी क्षेत्र में एक-एक ब्लैक स्पॉट बनाया गया है।

केवटी में कोयलास्थान के पास 7 हादसे हुए, जिनमें 6 की माैत
मापदंड के अनुरूप 5 सौ मीटर अन्तर्गत विगत तीन वर्षों अर्थात 2019, 2020 और 2021 में राष्ट्रीय उच्च पथ, राजकीय उच्च पथ, नगरीय पथ एवं अन्य पथ पर घटित व प्रतिवेदित 5 दुर्घटनाएं या 10 मृतक, गंभीर, साधारण रुप से जख्मी के आधार पर ब्लैक स्पॉट चिन्हित कर रिपोर्ट सौंपा गया है। इस आलोक में यहां का आकंड़ा जो दिया गया, उसमें इस जिला में 20 ब्लैक स्पॉट बना है। जिसमें शोभन चौक पर 8, तेलिया पोखर पर 6, सिमरी चौक पर 11 व शास्त्री चौक पर 5 दुर्घटनाएं हुई है। शोभन चौक पर 6 लोगों की मृत्यु हुई। वहीं, तेलिया पोखर के पास 6, सिमरी चौक के पास 8 व शास्त्री चौक के पास 4 लोग मौत के शिकार हो गए। केवटी थाना क्षेत्र के कोयलास्थान के पास 7 दुर्घटनाएं घटी। जिसमें 6 लोगों की मौत हुई। विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के महिंद्रा एजेंसी के पास 5 घटनाएं घटी। जिसमें तीन लोगों की मौत हुई। वहीं, सदर थाना क्षेत्र के जीवछ घाट, रानीपुर व दिल्ली मोड़ के पास 21 घटनाएं घटी। जिसमें 16 लोगों की मौत हो चुकी है।

खबरें और भी हैं...