पुण्य तिथि:आज जिस डिजिटल इंडिया की बात हो रही है उसकी आधारशिला स्व. राजीव गांधी ने रखी थी

दरभंगाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि मनाते कांग्रेस जिलाध्यक्ष व कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि मनाते कांग्रेस जिलाध्यक्ष व कार्यकर्ता।
  • याद किए गए आधुनिक भारत के निर्माता संचार क्रांति के जनक पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी
  • कंप्यूटर युग की शुरुआत का भाजपा नेताओं ने किया था विरोध : पंडित रामनारायण

आधुनिक भारत के निर्माता संचार क्रांति के जनक पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी की 31 वीं पुण्यतिथि के अवसर पर शनिवार को बलभद्रपुर स्थित ज़िला कांग्रेस कार्यालय कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष सीताराम चौधरी के नेतृत्व श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता करते हुए जिलाध्यक्ष सीताराम चौधरी ने पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर चर्चा करते हुए कहा कि राजीव गांधी भारत में सूचना प्रौद्योगिकी क्रांति के प्रथम सूत्रधार थे। उन्होंने कहा कि आज जिस डिजिटल इंडिया की बात पूरे देश मे हो रही है, उसकी आधारशिला उन्होंने ही रखी थी। प्रदेश प्रतिनिधि पंडित रामनारायण झा ने कहा कि जब देश मे कंप्यूटर युग की शुरुआत हुई तो वर्तमान सरकार के कई नेताओं ने जिसमें प्रमुख रूप से लालकृष्ण आडवाणी, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली आदि कई नेताओं ने इसका विरोध किया था. लेकिन आज इसका फायदा पूरे देश को हो रहा है। जिलाउपाध्यक्ष सह मीडिया प्रभारी मो.असलम ने कहा कि स्वर्गीय राजीव गांधी की विचारधारा सबको साथ लेकर चलने वाली थी। उन्होंने पंचायती राज को मान्यता देकर समाज के आखिरी व्यक्ति को न्याय व सरकारी लाभ देने की सोच रखने वाले प्रधानमंत्री के योगदान को देश हमेशा याद करेगा। संगोष्ठी को, परमानंद झा, अपलेन्द्र मिश्र, अरुण कुमार मिश्र, गणेश चौधरी, दिनेश गंगनानी, धनंजय सिंह, नसीम हैदर, उदितनारायण चौधरी, जयंत झा, राजा अंसारी, मनोरंजन झा, हसमत अली, मो.अंसार, नाज़िया हसन, दयानंद पासवान, विशाल कुमार, आनंद आलोक, मिथलेश यादव आिद मौजूद थे।

देश की एकता, अखंडता स्थापित करने में शहादत दे दी राजीव गांधी ने : प्रदीप

बहेड़ी | बाजार स्थित लक्ष्मी निवास पर शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्व राजीव गांधी का 31 वां शहादत दिवस मानवाधिकार संरक्षण प्रतिष्ठान के जिलाध्यक्ष प्रदीप कुमार चौधरी की अध्यक्षता में मनाया गया। इस दौरान उनकी तस्वीर पर माल्यार्पण करते हुए प्रतिष्ठान के जिलाध्यक्ष चौधरी ने कहा कि संचार क्रांति के अग्रदूत के रूप में स्वर्गीय गांधी ने आधुनिक राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। उनके प्रधानमंत्रित्व काल में भारत ने राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी प्रतिष्ठा अर्जित की। उन्होंने अशांत पंजाब, असाम, मिजोरम, त्रिपुरा, मणिपुर आदि राज्यों में शांति स्थापित कर लोगों को देश के विकास की मुख्यधारा में लाने का काम किया।श्रीलंका में पृथकतावादी तमिल विद्रोहियों व सरकार के बीच शातिं स्थापित करने के लिए भारतीय सैनिकों को वहां भेजकर उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी नेतृत्व क्षमता व राजनीतिक दक्षता का परिचय दिया था। देश की एकता, अखंडता व अमन चैन स्थापित करने में उन्होंने अपनी शहादत दे दी। जवाहर रोजगार योजना, नवोदय विधालय, नई शिक्षा नीति उनके प्रधानमंत्रित्व काल की विशिष्ट उपलब्धियां है।इस अवसर पर पूर्व प्रमुख चन्द्र भुषण सिंह, बहादुर ठाकुर, सुरेश कुमार, दशरथ ठाकुर, खुशीलाल मंडल, रंदीप कुमार सहित कई लोगों ने स्वर्गीय गाँधी की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें नमन किया।

राजीव गांधी ने पंचायती राज व्यवस्था को सुदृढ़ किया : अमरेंद्र

दरभंगा | कटहलबाड़ी में पूर्व प्रधानमंत्री स्वं राजीव गांधी की 31वी पुण्यतिथि मनाई गई|इस अवसर पर उनके चित्र पर माल्यार्पण करने के बाद आयोजित गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी पंचायती राज विभाग के पूर्व महासचिव अमरेंद्र कुमार अमर ने कहा कि राजीव गांधी ने पंचायती राज व्यवस्था को सुदृढ़ किया। युवाओं को राष्ट्र की मुख्यधारा में जोड़ेने के लिए मताधिकार की आयु 21 वर्ष से घटकर 18 वर्ष किया। गोष्ठी को सुशील कुमार सिंह, विजय कुमार महासेठ, खुर्शीद रब्बानी, राकेश सहनी, मो फैज, राकेश महतो,मिथिलेश कुमार पासवान, मदन कुमार प्रसाद, सुभाष यादव एवं मो इलियास ने संबोधित किया।

खबरें और भी हैं...