पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्रवाई:फर्जीवाड़ा कर भू-निबंधन करने वाले 3 धराए

गया14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस अधिकारी से लेकर आर्मी के कांस्टेबल तक को बनाया शिकार, एसएसपी के निर्देश पर खुलासा

बोधगया में अगर आपकी जमीन है, और आप उस जमीन पर विगत कई साल से नहीं जा रहे है, तो सावधान हो जाएं। बोधगया में सक्रिय भूमाफियाओं द्वारा उस जमीन के फर्जी मलिक को रजिस्ट्री ऑफिस में खड़ा कर उस जमीन का रजिस्ट्री कम पैसे लेकर किसी तरह से करवा दिया जाएगा। साथ ही अंचल कार्यालय में बैठे कर्मियों के सहयोग से उसका म्यूटेशन भी कर दिया जाएगा। कुछ ऐसे ही मामले का खुलासा बोधगया एसडीपीओ अजय कुमार द्वारा किया गया है।

बोधगया एसडीपीओ ने तीन की गिरफ्तारी कर जो तथ्य बताए, वह हतप्रभ करने वाले हैं। भू माफियाओं का चरम भी यह मामला दिखा रहा। एसडीपीओ अजय कुमार ने बताया कि गया शहर के रामपुर थाना अंतर्गत अनुग्रहपुरी कॉलोनी की रहने वाली आशा देवी फिलहाल गया से बाहर रहती हैं। पति पॉल आनंद की मौत के बाद आशा देवी और उनकी चार बेटी अपेक्षा आनंद, अमृया आनंद, अभिलाषा आनंद और आकांक्षा आनंद इलाहाबाद में रहती है। इनकी जमीन मगध विश्वविद्यालय थाना के तुरी कला गांव के पास में है। इसका खाता नंबर 49, प्लौट संख्या 492, थाना नंबर 423 व एराजी 92 डी0 मी0 है।

भूमि की मालकिन का रूप बना करवा दिया कारनामा, म्यूटेशन भी करने लगे, 4 करोड़ कमाने की थी मंशा

एसएसपी के निर्देश पर त्वरित तौर पर की गई कार्रवाई, कई चौंकाने वाले खुलासे

उक्त जमीन को उसी के गांव के संजय पाण्डेय ने दूसरी गांव की महिला को जमीन की मालकिन आशा देवी बता दिया। फिर अपने नाम से 85 हजार 892 रुपए का टैक्स देकर रजिस्ट्री करवा लिया, जिसके बाद उक्त जमीन को कम कीमत में कई लोगों को बेच दिया गया। इसकी जानकारी जब आशा देवी को हुई तो उन्होंने ठगी करने वालों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की। इसके बाद एसएसपी राजीव मिश्र के संज्ञान आने के बाद उनके निर्देश पर मास्टरमाइंड व उनके एक साथी एवं फर्जी आशा देवी से पूछताछ के बाद लोगों के साथ ठगी करने का मामला प्रकाश में आया।

इसके बाद इस मामले में पकड़े गए संजय पाण्डेय, इन्दर पासवान व ललिता यादव ने 30 लाख अभी तक कमाने की बात कही। इस मामले में ठगी का शिकार हुए सभी व्यक्तियों से आवेदन लेकर प्राथमिकी दर्ज की जा रही है। अनुसंधान में भूमाफियाओं के सक्रिय होने का चला पता, फर्जी महिलाओं को निबंधन कार्यालय में खड़ा किया एसडीपीओ द्वारा एक टीम बनाकर अनुसंधान शरू किया गया और सफलता पाई।

सेना के अधिकारियों व पुलिस को जमीन बेच दिया
भूमाफियाओं ने अपने षडयंत्र के अगले चरण में ग्राहकों को फंसाना शुरू किया और पुलिस अधिकारी से लेकर सेना के अधिकारी तक को यह बताया कि यह जमीन उनकी है और बेच दी। इसके पहले इन अपराधियों ने बकायदा एक स्टाम्प पेपर पर एग्रीमेंट किया कि इस पूरे कांड में होने वाले मुनाफे में से किस कितना हिस्सा मिलेगा। तय किया था कि इस जमीन से होने वाले मुनाफे का 50 प्रतिशत संजय पाण्डेय को, 30 प्रतिशत इन्दर पासवान को और 20 प्रतिशत संजीव कुमार को मिलेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें