गया में अंतरराज्यीय गिरोह के 9 लुटेरे गिरफ्तार:गया और झारखंड में डकैती, चौरी और लूट की वारदात को अंजाम देते थे, पुलिस ने हथियार के साथ पकड़ा

गया10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
SSP ने प्रेस कांफ्रेस कर जानकारी दी। - Dainik Bhaskar
SSP ने प्रेस कांफ्रेस कर जानकारी दी।

गया में डकैती, चोरी और ट्रक लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले 9 अपराधियों को देसी असलहों के साथ गिरफ्तार किया है। पकड़े गए अपराधी जिले के अलावा झारखंड के पड़ोसी जिलों में वारदातों को अंजाम देते थे। इन नौ अपराधियों में से एक कबाड़ बेचने वाला है जो इन अपराधियों से सामान खरीदा करता था। पुलिस इन नौ अपराधियों के तीन और सहयोगियों की तलाश में जुटी है। पुलिस इन्हें कुख्यात अपराधी मान रही है।

एसएसपी आदित्य कुमार ने बताया कि बीते कुछ महीनों जिले के विभिन्न प्रखंडों व शहर के थाना क्षेत्र में ताबड़तोड़ डकैती व चोरी की घटना को अंजाम दिया गया था। पुलिस घटनाओं पर टीम बना कर काम कर रही थी। टीम का नेतृत्व एसपी सिटी राकेश कुमार कर रहे थे। उस टीम को काफी छानबीन और तकनीकी मदद के बाद शहर के सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में कबाड़ी का काम करने वाले पर शक हुआ तो पुलिस ने उस पर निगरानी रखनी शुरू कर दी। इस बीच कुछेक अपराधी तकनीकी जांच में सामने आए व कबाड़ी वाले से संबंध होने के प्रमाण मिले।

इसी दौरान पुलिस की एक टीम को सूचना मिली कि अपराधियों के कुछेक साथी किसी नई वारदात को अंजाम देने की तैयारी में हैं और वे शेरघाटी क्षेत्र से सटे सगाही मोड़ में पहुंचने वाले हैं। इस पर पुलिस ने मौके पर घेराबंदी की और 5 अपराधियों को दबोच लिया गया। इसके बाद पकड़े गए अपराधियों की निशानदेही पर तीन और अपराधी और एक कबाड़ वाले को गिरफ्तार किया।

इनके पास से देसी कारतूस 16 कारतूस एक बारह चक्का ट्रक, 5 मोबाइल जब्त किए गए हैं। एसएसपी आदित्य कुमार का कहना है कि पकड़े गए अपराधियों में से एक असलम सरगना है। ये सभी जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों के रहनेवाले हैं। पकड़े गए कुछ अपराधियों के विरुद्ध पहले से भी मुकदमे दर्ज हैं। इसके अलावा इनके खिलाफ जिले से सटे झारखंड के जिलों में भी वारदात दर्ज हैं जिसे दबोचे गए अपराधियों ने कबूल किया है।

खबरें और भी हैं...