पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Gaya
  • Anugrah Babu's Life Was Dedicated To Bihar, Also Played An Important Role In The Freedom Movement

याद किए गए अनुग्रह बाबू:बिहार के लिए समर्पित था अनुग्रह बाबू का जीवन स्वतंत्रता आंदोलन में भी निभाई थी अहम भूमिका

गयाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एएम कॉलेज में मनाई गई अनुग्रह बाबू की 134वीं जयंती, वेबिनार व पौधरोपण कार्यक्रम आयोजित

एएम कॉलेज, गया में शुक्रवार को बिहार विभूति डॉ. अनुग्रह नारायण सिंह की 134 वी जयंती मनाई गई। इस दौरान कॉलेज कैंपस में कोविड-19 के लिए जारी दिशानिर्देशों का अनुपालन करते हुए बिहार विभूति की प्रतिमा पर माल्यार्पण व वृक्षारोपण किया गया। इस दौरान बिहार विभूति डॉ. अनुग्रह नारायण सिंह: आधुनिक बिहार के निर्माता विषय पर वेबिनार हुआ।

कॉलेज के प्रधानाचार्य प्रो. (डॉ.) एम. शमसुल इस्लाम ने कहा कि अनुग्रह बाबू का जीवन बिहार के लिए समर्पित था। उन्होंने जीवन पर्यंत राज्य की सर्वांगीण विकास के लिए अथक प्रयास किए। कहा कि वे अपने प्रयासों के माध्यम से शिक्षा, सामाजिक समरसता और जन कल्याण, आदि के क्षेत्र में अद्वितीय कार्य करते हुए आज हम सभी के लिए प्रेरणा स्रोत हैं। प्रधानाचार्य ने कॉलेज के संस्थापक सचिव रामा वल्लभ प्रसाद सिंह की जीवनी पर

प्रकाश डालते हुए अनुग्रह मेमोरियल कॉलेज के स्थापना से लेकर उत्कृष्टता की ओर ले जाने में उनकी भूमिका की चर्चा की। प्रधानाचार्य ने कहा कि महाविद्यालय को शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी बना कर ही हमसभी इन महापुरुषों के प्रति अपनी सच्ची श्रद्धांजलि दे सकते हैं। वेबिनार का संचालन गणित विभाग के प्राध्यापक अभिषेक कुमार मिश्र ने किया।

स्वतंत्रता आंदोलन में महत्वपूर्ण थी उनकी भूमिका
अंग्रेजी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ अमृतेंदू घोषाल ने अनुग्रह बाबू के जीवन के विभिन्न आयामों की चर्चा करते हुए कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन में उनकी भूमिका बहुत महत्वपूर्ण थी। प्राध्यापिका डॉ. निधी त्रिपाठी ने समाज कल्याण व समाज के वंचित तबके के लिए अनुग्रह बाबू द्वारा किए गए कार्यों की विस्तृत चर्चा की। प्राध्यापक अनिल कुमार सिंह और डॉ. सादात करीम ने बिहार विभूति और कॉलेज के संस्थापक सचिव रामा वल्लभ प्रसाद सिंह के योगदान की चर्चा करते हुए नई पीढ़ी को उनका अनुसरण करने का आवाह्न किया।

खबरें और भी हैं...