गया में थाने से 1KM दूर पेट्रोप पंप फूंका:कट्‌टा दिखाकर पेट्रोल भरवाया, रंगदारी मांगी; लौटकर आए और आग लगा दी

गया8 महीने पहले

गया में बेखौफ अपराधियों ने पेट्रोल पंप, स्कूल बस और एक बाइक को आग के हवाले कर दिया। विवाद पेट्रोल भराकर रुपए नहीं देने को लेकर हुआ। कट्‌टा दिखाकर बाइक की टंकी फुल कराई। पैसे मांगने पर बोले- केके टाइगर के आदमी हैं, रंगदारी देनी होगी। पेट्रोल पंप कर्मियों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। उस समय अपराधी चले गए, लेकिन दोबारा लौटे और आग लगा दी। कट्‌टा दिखाकर पेट्रोल भराने और आगजनी का वीडियो सामने आया है।

रात को फिर पुलिस को सूचना दी गई, लेकिन पुलिस डर के मौके पर आई ही नहीं। जब सबकुछ जल गया तब बुधवार सुबह पुलिस पेट्रोल पंप पर पहुंची, जबकि थाना पेट्रोल पंप से एक किलोमीटर दूर है।

वारदात मंगलवार रात गया के बांकेबाजार थाना क्षेत्र की है। पुलिस अपराधियों को नहीं पकड़ पाई है। पेट्रोल पंप के सभी चार नोजल पंप जल कर राख हो गए हैं। किसी तरह से पेट्रोल कर्मियों व ग्रामीणों ने आग पर पानी और रेत और आग बुझाने वाले उपकरण की मदद से आग पर काबू पाया।

बस पूरी तरह जल गई।
बस पूरी तरह जल गई।

आसपास के लोगों के मुताबिक ये वही अपराधी हैं, जो तीन दिन से क्षेत्र में रंगदारी मांग रहे हैं। नहीं देने पर आगजनी कर रहे हैं। पुलिस सिर्फ पड़ताल में ही उलझी है। इधर, थानाध्यक्ष कुमार सौरभ का कहना है कि घटना को क्षेत्र के अपराधियों ने अंजाम दिया है। इसका सुराग मिला है। इसके अलावा अन्य ठोस जानकारियां भी मिली हैं। पुलिस काम कर रही है। सफलता मिलते ही आगे की जानकारी दी जाएगी।

दो बाइक से चार अपराधी आए थे

पेट्रोल पंपकर्मियों के मुताबिक मंगलवार की रात दो बाइक से 4 अपराधी बांकेबाजार के तरवन मोड़ के निकट अनन्या पेट्रोल पंप पहुंचे। वहां उन्होंने पहले पेट्रोल भरवाया। पेट्रोल भरवाने के बाद पेट्रोल पंप कर्मियों ने पैसे मांगे तो बाइक सवार अपराधी भड़क गए। उलटा केके टाइगर के नाम रंगदारी मांगने लगे। इस पर पेट्रोल कर्मी व अपराधियों के बीच बहस होने लगी। मारपीट की भी नौबत आ गई।

इस पर पेट्रोल कर्मियों ने पुलिस व आसपास के ग्रामीणों को सूचना दे दी। इस बात की भनक लगते ही अपराधी वहां से हथियार का भय दिखा कर आमस थाना क्षेत्र डेल्हो महापुर रोड की ओर भागने लगे। हालांकि, ग्रामीणों ने डेल्हो महापुर रोड पर बोल्डर डाल कर अपराधियों को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन अपराधी बाइक छोड़ कर भाग गए। भागने के दौरान किसी एक अपराधी का कट्‌टा सड़क के किनारे गिर गया।

धू-धूकर जलती बस।
धू-धूकर जलती बस।

पुलिस लौटी, तैयारी के साथ आए बदमाश

अपराधियों के भागने के बाद ग्रामीण व पुलिस दोनों यह सोच कर शांत हो गए कि अपराधी डर से भाग गए, लेकिन एक ऐसा नहीं था। करीब डेढ़ बजे रात को एक बार फिर वही बदमाश पूरी तैयारी के साथ आए और पेट्रोल पंप के चार नोजल में एक साथ आग लगा दी। पेट्रोल पंप पर खड़ी एक बस और एक बाइक को आग के हवाले कर दिया।

पूरा पेट्रोल पंप धूं-धूं कर जल गया और बड़े ही इत्मीनान से अपराधी मौके से भाग गए जबकि घटना स्थल से कुछ ही दूरी पर बांकेबाजार थाना स्थित है। थाना में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल भी है, लेकिन उसे थाना का चौखट पार कर घटनास्थल पर पहुंचने की हिम्मत नहीं हुई। रात भर पेट्रोल पंप के कर्मी और उसके मालिक व गांव वाले पुलिस का इंतजार करते रहे पर मौके पर कोई नहीं पहुंचा। सुबह बांकेबाजार पुलिस सक्रिय हुई।