यहां रात को ड्यूटी पर ही सोते दिखे पुलिसकर्मी:भास्कर रियलिटी चेक; पितृ पक्ष मेले में रात के 12 बजे लापरवाह नजर आई पुलिस

गया7 दिन पहले

पितृपक्ष मेला परवान पर है। बड़ी संख्या में श्रद्धालु आ चुके हैं। मेला क्षेत्र दिन भर गुलजार रह रहा है। फल्गु नदी से लेकर विष्णुपद मंदिर और फिर अन्य महत्वपूर्ण वेदी वाले क्षेत्र पिंडदानी ही पिंडदानी सिर मुड़वाए और गंजी धोती में नजर आ रहे हैं। यह तो हुई दिन की बात अब जरा रात की भी बात कर लें।

रविवार की रात पितृपक्ष का 9वीं रात है। अभी आठ दिन शेष हैं। यानी 26 सितंबर तक मेला चलेगा। लेकिन इस 9 दिन में ही मेला ड्यूटी में लगाए गए पुलिस बल तीर्थयात्रियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी को भूल वे ड्यूटी के दरम्यिान रात में सो रहे हैं। खास बात यह है कि सबसे अधिक पिंडदानी मेला क्षेत्र में ही ठहरे हैं। और उसी क्षेत्र में तैनात पुलिस बल खर्राटे भर रहा है।

दैनिक भास्कर ने रात 12 बजे से लेकर दो बजे तक पुलिस व प्रशासन के दावे की रियलिटी चेक की। इस दौरान कई जगह पर पुलिस बल की लापरवाही नजर आई। यही नहीं विभिन्न स्थानों से स्वास्थ्य से जुड़े कर्मी भी रात में गायब हैं। और तो और मेला क्षेत्र का सबसे महत्वपूर्ण थाना विष्णुपद थाना का गेट पर भी कोई नहीं है।

इसके अलावा अन्य स्थानों का भी बुरा हाल है। जैन मंदिर के पास लगे शिविर में पुलिस बल घोड़ा बेच कर सो रहे हैं। विष्णुपद मंदिर के पास तैनात महिला पुलिस कर्मी भी चादर तान कर सो रहे हैं। ऐसे एक नहीं बल्कि कई हैं। यहीं नहीं कुछ पुलिस कर्मी तो केनरा बैंक के एटीएम बूथ के अंदर सोए हुए नजर आए। लेकिन यहां दो पुलिस जाग भी रहे थे। यही हाल बोधगया के रास्ते में बने चिल्ड्रेन पार्क के पास बने शिविर का भी है। टेंट सिटी में में सब कुछ दुरुस्त दिखा। तीर्थयात्रियों के आने का लोग इंतजार कर रहे थे।

खबरें और भी हैं...