पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना अपडेट:बड़ी राहत: 5 माह बाद सबसे कम इकाई में मिले 7 पॉजिटिव केस, 6448 की जांच

गया7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना को हराने में जीत की ओर गया, टेस्टिंग के मामले में गया का आंकड़ा 4.22 लाख पहुंच

कोरोना को हराने की ओर गया जिला के कदम बढ़े हैं। अब जो आंकड़े आ रहे हैं, वह निश्चित तौर पर राहत देने वाले हैं ही, साथ ही बता रहे कि कोरोना कमजोर हुआ है और हमारी सतर्कता के कारण वह हार रहा व हम जीत रहे हैं। कई महीने के बाद अब तक की सबसे अच्छी खबर आई है। बड़ी तादाद में जांच के बीच सिर्फ 07 पॉजिटिव केस मिले हैं। पांच महीने के लंबे अंतराल के बाद इस तरह की सुकून देने वाली खबर सामने आई है। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग का परिश्रम रंग लाया है, कि शनिवार को दहाई में भी पॉजिटिव केस नहीं पहुंच सका और इकाई में ही रहा। अबतक कुल 4 लाख 22 हजार 119 लोगों की कोरोना की जांच गया जिले में की जा चुकी है।

रैपिड एंटीजन किट से 5786 की जांच में सिर्फ 1 में मिला कोरोना
जिले में शनिवार को 6448 लोगों की सैंपलिंग हुई। इसमें सात नए केस सामने आए। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार 6448 की कुल जांच में रैपिड एंटीजन किट से 5786 की जांच की गई, जिसमें महज 01 पॉजिटिव केस सामने आए। इसी प्रकार ट्रूनैट से 127 की जांच में 02 और आरटीपीसीआर से 535 की जांच में 04 केस मिले हैं। इस प्रकार कुल 6448 लोगों की जांच में 07 मामले मिले हैं। जानकारी हो कि पांच महीने बाद अक्टूबर महीने में ही दहाई में सबसे कम कोरोना के मरीज मिलने का आंकड़ा मिला था। 3 अक्टूबर को 12 और 4 अक्टूबर को 13 कोरोना के मरीज मिले थे।

बिहार में टॉप थ्री में जांच के मामले में गया जिला
जिला जांच के पायदान में बिहार भर में टॉप थ्री के दायरे में है। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों की मानें तो गया जिले में तेजी से सैंपलिंग का काम किया गया। यही कारण है, कि टॉपी थ्री की लिस्ट में आते हुए कोरोना को एक हद तक नियंत्रित करने का काम हो सका। जून-जुलाई और अगस्त माह गया जिले के लिए चुनौती वाले महीने के रूप में आए। इस दौरान कोरोना काफी रफ्तार में बढ़ा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें