पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बोधगया में निरंजना नदी में मिली अधेड़ की लाश:बोधगया में मिठाई कारोबारी का उपलाता हुआ मिला शव; निरंजना नदी में घुटने भर पानी में ही डूब गए, पुलिस जांच में जुटी

गया3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
निरंजना नदी में उपलाता हुआ शव। - Dainik Bhaskar
निरंजना नदी में उपलाता हुआ शव।

गया के बोधगया थाना क्षेत्र के निरंजना नदी से बुधवार की सुबह एक मिठाई कारोबारी का शव बरामद हुआ। मिठाई कारोबारी के शव को नदी के पानी में औंधे मुंह गिरा देख स्थानीय लोग सकते में आ गए। लोगों ने बताया कि मृतक की बोधगया के गांधी चौक पर मिठाई की दुकान थी। सूचना मिलते ही स्थानीय थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में ले लिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

गया की फल्गु नदी महज 15 किमी दूर दक्षिण दिशा में स्थित बोधगया में निरंजना नाम से जानी जाती है। इसी नदी में पौ फटते ही लोगों ने नदी में एक सफेद शर्ट पहने हुए एक 50 वर्षीय व्यक्ति का शव उतराता हुआ देखा गया। इससे नदी के किनारे लोगों के बीच दहशत फैल गई। बड़ी संख्या में लोग नदी की ओर दौड़े। कुछ देर व्यक्ति की पहचान नहीं हो सकी तो आसपास के लोगों ने घटना की सूचना बोधगया थाने को दी। इस बीच पूरे शहर में नदी में शव मिलने की खबर फैल गई। मौके पर पुलिस भी पहुंची। पानी से शव को निकाला गया। इसके बाद शिनाख्त किए जाने का सिलसिला शुरू हो गया।

करीब एक घंटे के भीतर ही मृतक की पहचान सुनील गुप्ता के रूप में हो गई। स्थानीय लोगों ने बताया कि सुनील गुप्ता मंगलवार को घर से निकले थे। इसके बाद से उनका पता घरवालों को नहीं चल सका था। वहीं कुछ लोगों ने बताया कि सुनील गुप्ता नदी पार कर बकरौर गए हुए थे। आशंका है कि शाम को लौटने वक्त ही वह नदी में डूबे होंगे।

सुनील गुप्ता का बोधगया के गोदाम रोड क्षेत्र में अपना मकान था। इधर, बोधगया इंस्पेक्टर रुपेश सिन्हा ने बताया कि संबंधित मामले में छानबीन की जा रही है। परिवार वालों से भी बातचीत की जा रही है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि लॉकडाउन होने की वजह से उनका कारोबार पूरी तरह से ठप पड़ गया था। वह परेशान चल रहे थे। परेशानी के बीच नदी पार करने के दौरान उन्हें चक्कर आ गया हो गया होगा और वह पानी में बेहोश कर गिर गए होंगे, क्योंकि जहां पर उनकी बॉडी पड़ी थी वहां महज घुटना भर ही पानी था।

खबरें और भी हैं...