पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नदी में डूबने से बुजुर्ग की मौत:गया में नदी में फिसला 80 साल के बुजुर्ग का पैर; डूबने से हो गई मौत, घर में छाया मातम

गया3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मौत के बाद परिवार में छाया मातम। - Dainik Bhaskar
मौत के बाद परिवार में छाया मातम।

गया के अतरी प्रखंड के दौलतपुर गांव में एक अधेड़ की नदी में डूबने से मौत हो गई। वह नदी किनारे गए थे। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक की पहचान रामवरण यादव (80 साल) के रूप में की गई है। परिजनों ने बताया कि बुधवार को 10 बजे नदी की ओर किसी काम से निकले थे। उनका पैर नदी के तेज धार के सामने टिक नहीं सका और उनका पैर फिसलने के कारण वह गहराई में चले गए। इसके कारण तेज बहाव के साथ वह बह गए। साथ ही वह गहरे पानी में डूब गए।

उन्हें नदी में डूबता देख गांव के लोगों ने शोर मचाया तो बड़ी संख्या में गांव के लोग मौके पर एकत्रित हुए। इस बीच रामवरण यादव नदी में लोगों की नजरों से दूर हो गए। गांव वालों ने नदी में छलांग लगा कर उनकी छानबीन की तो कहीं कुछ पता नहीं चला। कुछ दूरी पर गहरे पानी में जब गोताखोरों ने छानबीन की तो वहां से रामवरण यादव को निकाला गया। रामवरण यादव की तब तक मौत हो चुकी थी।

उनकी मौत की खबर गांव में पहुंचते ही कोहराम मच गया। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची अतरी पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और घटनास्थल का मौका मुआयना किया। साथ ही शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम की तैयारी में पुलिस जुट गई। गांववालों का कहना है कि यह नदी हर वर्ष किसी न किसी गांव के लोगों को अपने में समाहित कर लेती है। नदी की चौड़ाई बेशक छोटी है पर गहराई अधिक होने की वजह से अक्सर घटनाएं होती रहती है।

खबरें और भी हैं...