पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिहार में पुल गिरने का VIDEO:गया में 13 करोड़ की लागत से बन रहे पुल के स्लैब मामूली बाढ़ में ही नदी में गिरे; 6 सालों में 16 पिलर ही बन पाए थे

गया2 महीने पहले
गया के डोभी ब्लॉक के कोठवारा वरीया गांव के पास निरंजना नदी पर बन रहे पुल में घटिया सामान लगाने के आरोप हैं।

गया के डोभी ब्लॉक के कोठवारा वरीया गांव के पास निरंजना नदी पर बन रहा पुल मामूली बाढ़ में ही भरभरा कर ढह गया। यह वही पुल है, जो पिछले 6 साल से बन रहा है। निर्माण के नाम पर अब तक नदी में 16 पिलर ही खड़े किए जा सके हैं। जिस वक्त ये पुल ढह रहा था, उस दौरान किसी ने इसका वीडियो बना लिया। अब यह वीडियो पूरे इलाके में शेयर किया जा रहा है।

बिहार सरकार में मंत्री रहे विनोद यादव ने 2015 में पुल का शिलान्यास किया था।
बिहार सरकार में मंत्री रहे विनोद यादव ने 2015 में पुल का शिलान्यास किया था।

पुल का शिलान्यास 2015 में क्षेत्र के पूर्व विधायक विनोद यादव ने किया था। पुल की लागत 13 करोड़ रुपए है। इसे नाबार्ड योजना के तहत बनवाया जा रहा है। इसे बनाने की जिम्मेदारी तिरुपति बालाजी कंस्ट्रक्शन कंपनी को दी गई है। पुल बनाने में घटिया सामान के इस्तेमाल के आरोप हैं। इसके खिलाफ लोगों ने प्रदर्शन भी किया था। इस वजह से कई बार काम रोकना भी पड़ा था।

मामूली बाढ़ के बाद इस पुल के ऊपर रखे जाने वाले स्लैब नदी में गिर गए।
मामूली बाढ़ के बाद इस पुल के ऊपर रखे जाने वाले स्लैब नदी में गिर गए।

गांव के लोगों का कहना है कि नदी में हर साल बाढ़ आती है। बाढ़ मामूली ही होती है। इससे इलाके को नुकसान भी नहीं होता है। इसके बाद भी पुल का स्ट्रक्चर का गिरना अपने आप में बड़ा सवाल है। पुल बनाने वाली कंपनी के कर्मचारी और मजदूर बरसात शुरू होने से पहले ही साइट छोड़कर चले गए हैं।