मंगोलिया डेलीगेट्स के कारण संदेह के घेरे में प्रशासनिक महकमा:2 दिन से स्वागत में लगे थे अधिकारी, सभी की लिस्ट तैयार करने में जुटा विभाग

गयाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

गया आए मंगोलिया शिष्टमंडल के एक सदस्य की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्हें मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल से क्वारैंटाइन किया गया है। इसके बाद पूरा प्रशासनिक महकमा शक के घेरे में आ गया है। वजह विदेशी मेहमान की मेजबानी करने में बीते दो दिनों से प्रशासनिक महकमे के बड़े से छोटे अधिकारी तक स्वागत में जुटे थे। यहां तक कि जिस होटल में उन्हें ठहराया गया था वहां के कर्मचारी भी संदेह के घेरे में हैं। हालांकि स्वास्थ विभाग फिलहाल विदेशी मेहमान के संपर्क में आने वालों की लिस्ट तैयार करने में जुटा है। लिस्ट अब तक फाइनल नहीं हुई है।

मंगोलियाई डेलिगेशन में शामिल संक्रमित 3 दिन पहले वेंकैया नायडू से मिला, गया में बुद्ध मंदिर भी गया

बोधगया महोबोधि मंदिर में जुटे मंगोलिया डेलीगेट्स।
बोधगया महोबोधि मंदिर में जुटे मंगोलिया डेलीगेट्स।

मंगोलिया संसद के अध्यक्ष जंद नशतर के नेतृत्व में 23 सदस्यी शिष्टमंडल दो दिसंबर की शाम को करीब चार बजे गया एयरपोर्ट पहुंचा था। यहां उनका भव्य स्वागत किया गया था। स्वागत में विधानसभा उपाध्यक्ष कमिश्नर मयंक बड़बड़े आईजी अमित लोढ़ा, डीएम अभिषेक सिंह, एसएसपी आदित्य कुमार, डीआरडीए डायरेक्टर संतोष कुमार, एसडीएम इंद्रवीर, डीसीएलआर शेरघाटी, एसडीओ बोधगया, एसडीपीओ बोधगया, समेत कई अधिकारी बोधगया गया एयरपोर्ट से लेकर ढुंगेश्वरी और फिर दूसरे दिन बोधगया महोबोधि मंदिर में जुटे थे।

इसके अलावा इनके साथ रहे इन अधिकारियों के अर्दली, सुरक्षा गार्ड, जन संपर्क अधिकारी, अन्य क्लर्क भी थे। इन अधिकारियों के अलावा मंगोलिया के मेहमान को महाबोधि होटल में ठहराया गया था। वहां के कर्मी भी अब संदेह के घेरे में आ गए हैं। बीटीएमसी सचिव और बौद्ध भिक्षु भी इस घेरे में आ गए हैं।

बोधगया में घंटा बजाते मंगोलिया डेलीगेट्स।
बोधगया में घंटा बजाते मंगोलिया डेलीगेट्स।

सिविल सर्जन केके राय ने बताया कि मंगोलिया मेहमानों के संपर्क में आने वालों की लिस्ट तैयार की जा रही है। इन तमाम अधिकारियों को कोरोना की जांच कराने के बाबत अब आदेश जारी किए जाएंगे। फिलहाल अन्य विदेशी मेहमानों पर भी नजर रखी जा रही है। उन्हें भी आइसोलेट किया गया है।