• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Gaya
  • Bihar News; Wife Had Hatched A Conspiracy With Her Lover; 4 Arrested In Shringar Shop Staff Murder Case

पत्नी ने गहने गिरवी रखकर दी थी पति की सुपारी:प्रेमी के साथ मिलकर रची साजिश; श्रृंगार शॉप के स्टाफ की हत्या में 4 गिरफ्तार

गया7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हत्यारोपियों के साथ गया पुलिस। - Dainik Bhaskar
हत्यारोपियों के साथ गया पुलिस।

करीब 2 महीने पहले 20 अक्टूबर को शेरघाटी के रुबी श्रृंगार शॉप के स्टाफ की हत्या के मामले में पुलिस ने खुलासा किया है। उसकी पत्नी ने ही प्रेमी के साथ मिलकर हत्या का प्लान बनाया था। पत्नी ने अपने गहने गिरवी रख कर अपने प्रेमी से सुपारी किलर को पैसे दिए थे। पति की हत्या का सौदा तीन लाख रुपए में तय हुआ था। सुपारी किलर को 2,80,000 रुपए एडवांस में दे दिए गए थे। बाकी काम होने के बाद देने की बात हुई थी।

पुलिस ने इस मामले में संलिप्त सभी अपराधियों और मृतक की पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है। उनके पास से हत्या में इस्तेमाल किए गए हथियार भी बरामद कर लिए गए हैं।

जांच के दौरान पुलिस को पत्नी पर हुआ शक
एसएसपी आदित्य कुमार ने बताया कि 20 अक्टूबर को तैयब आलम की हत्या गोली मार कर दी गई थी। इस हत्या के खुलासे के लिए स्पेशल टीम गठित की गई थी। टीम के सदस्य बड़ी बारीकी से मामले की जांच में जुटे थे। जांच के दौरान टीम को महिला की गतिविधियों पर शक हुआ तो पता चला कि उसका अवैध संबंध जिशान नामक युवक के साथ है।

तैयब खान की गोली मारकर हुई थी हत्या
छानबीन और तेज की गई तो पता चला कि अफशां परवीन ने अपने कुछ गहने गिरवी रख कर अस्सी हजार रुपए लिए हैं। पुलिस जिशान पर नजर रखे हुई थी। इस बीच पता चला कि अफशां ने जिशान को अपने पति की हत्या कराने की बात कही थी। इसके बाद ही जिशान ने आरीफ के माध्यम से सुपारी किलर पंकज पासवान, फोटो खान और छोटू यादव को पैसे दिए थे। जिसके बाद अपराधियों ने तैयब खान को गोलियों से उड़ा दिया था।

दुकान के मालिक को फंसा रही थी पत्नी
हत्या के बाद मृतक की पत्नी रुबी श्रृंगार शॉप के मालिक पर ही मर्डर का आरोप लगा रही थी। लेकिन पुलिस ने छानबीन में पाया था कि दुकानदार और तैयब के बीच न केवल गहरा विश्वास था बल्कि अच्छे संबंध भी थे। एसएसपी आदित्य कुमार ने बताया कि सुपारी किलर में से पंकज कुमार फिलहाल फरार चल रहा है। शेष सभी अपराधी जो कांड में शामिल थे गिरफ्तार कर लिए गए हैं। उनकी गिरफ्तारी एक नई वारदात की योजना बनाने के दौरान पुलिस टीम द्वारा शेरघाटी हेमजापुर से की गई है।

पकड़े जाने वालों में फोटो खान, पंकज पासवान, जिशान रहमान और अफशां परवीन हैं। इन लोगों के पास दो देसी कट्‌टे पांच जिंदा कारतूस बरामद किए गए हैं। फोटो खान और पंकज पासवान का आपराधिक इतिहास लंबा है। फोटो के खिलाफ सात मुकदमे विभिन्न थानों में दर्ज है तो वहीं पकंज पासवान के विरुद्ध तीन केस विभिन्न थानों में दर्ज है।