• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Gaya
  • Boyfriend's Dead Body Found From Railway Track, Girlfriend's Half burnt Body Recovered From Inside The Sand

गया में बॉयफ्रेंड-गर्लफ्रेंड का मर्डर:युवक की हत्या कर रेलवे ट्रैक पर फेंका, युवती की अधजली लाश बालू के अंदर से बरामद

गया4 महीने पहले

गया में प्रेमी-प्रेमिका की हत्या कर दी गई है। युवक का शव रेलवे ट्रैक से मंगलवार की दोपहर बरामद किया। वहीं युवती का अधजला शव मंगलवार शाम श्मशान से 800 मीटर दूर रेत के अंदर से बरामद किया गया है। पुलिस इस मामले की छानबीन में जुटी है। मामला मुफस्सिल थाना क्षेत्र के गेरे धनकुट्‌टी महादलित टोला गांव का है।

प्रेमी युवक के शव मिलने के बाद से लेकर देर शाम तक पुलिस अधिकारी और मुफस्सिल थाना उलझी रही। काफी छानबीन के बाद युवती (23) का शव मंगलवार शाम मिला। पुलिस के मुताबिक लड़की के घर वाले घर से फिलहाल फरार बताए जा रहे हैं। हत्या को लेकर गांव में तनाव की स्थिति बनी है।

छानबीन में दिनभर पुलिस को उलझी रही

जानकारी के अनुसार विष्णुदेव मांझी(26) सोमवार देर शाम से लापता चल रहा था। मंगलवार दोपहर रेलवे ट्रैक पर क्षत-विक्षत लाश पड़े होने की सूचना धनकुट्‌टी गांव के ग्रामीणों को मिली तो लोग मानपुर जंक्शन के आउटर पर रेलवे ट्रैक के निकट पहुंचे। वहां रामचंद्र विष्णुदेव का शव पड़ा हुआ है। शव देखते ही उसके परिजन भड़क उठे और इस बात की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

वहीं मृतक के परिजन गांव लौट आए और कुछ पोस्टमार्टम हाउस चले गए। इसी बीच पुलिस को खबर मिली कि धनकुट्‌टी गांव में मारे गए युवक को लेकर जबर्दस्त तनाव की स्थिति बनी है। एक युवती भी गांव से लापता चल रही है। लापता युवती का मारे गए युवक के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। गांव वाले युवती की भी हत्या किए जाने की आशंका जता रहे हैं।

पुलिस धनकुट्‌टी महादलित टोला गांव पहुंची और युवती की तलाश में जुट गई। लापता युवती का घर, मारे गए युवक के घर से 100 मीटर की दूरी पर ही स्थित है। पुलिस के पहुंचने से पहले युवती के घरवाले गांव छोड़ चुके थे। मुखबिरों के सहारे पुलिस को पता चला कि लापता युवती की केवल हत्या नहीं की गई है बल्कि उसके शव को भी ठिकाने लगा दिया गया है। काफी जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने बालू के अंदर से युवती के अधजले शव को बरामद कर लिया। शव को पुलिस मुफस्सिल थाने ले गई है।

5 साल से चल रहा था प्रेम-प्रसंग

इधर सूत्रों का कहना है कि युवक-युवती के बीच बीते 4-5 वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवती तीन से पांच माह की गर्भवती भी थी। शादी से युवक ने इनकार कर दिया था। इसके बाद युवती के घरवालों ने गांव के ही युवक की मदद से विष्णुदेव को बुलवाया और गला घोंटकर हत्या कर दी। साथ ही उसका शव रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया। युवक की हत्या करने के बाद युवती के घरवालों ने युवती को पहले फांसी का फंदा लगा कर मार दिया। उसके बाद उसके शव को गांव के श्मशान घाट में सोमवार की रात करीब 12 बजे जलाने की कोशिश की गई। साक्ष्य छिपाने के लिए अधजले शव को श्मशान घाट से कुछ दूर ले जाकर बालू में गाड़ कर फरार हो गए। वहीं पुलिस फिलहाल कुछ भी नहीं कह रही है। एएसपी मनीष कुमार का कहना है कि जांच चल रही है।

एएसपी ने बताया कि युवक-युवती की हत्या हुई है। दोनों के शव बरामद कर लिए गए हैं। दोनों एक ही गांव के हैं। मारे गए युवक की पहचान विष्णु मांझी व युवती की पहचान गुड़िया के रूप में हुई है। इन दोनों की हत्या कब, किसने और कैसे की। इस बात की जांच की जा रही है। बगैर किसी निष्कर्ष पर पहुंचे ही अपने मन से निर्णय ले लेना और कहना जल्दबाजी होगी। ऑनर किलिंग के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी कुछ भी नहीं कहा जा सकता है।