पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

परायण पाठ:ब्राह्मणों ने शुरू किया श्रीरामचरित मानस नवाहृ परायण पाठ

गया7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वैश्विक आपदा कोरोना संक्रमण के इस दौर में सार्वजनिक स्थान पर नहीं, बल्कि डालमिया हाउस में हो रहा है नवाहृ परायण पाठ

25 ब्राह्मणों द्वारा सामूहिक रूप से किया जा रहा पाठ
मुख्य कथावाचक के रूप में मथुरा से आए है आचार्य श्री राधाकांत जी महाराज

न आजाद, न धामी टोला और न गांधी मैदान, बल्कि इस बार डालमिया हाउस में प्रभु श्रीराम का दरबार सजा है। यहां भगवान श्रीराम, माता सीता, लक्ष्मण, हनुमान के साथ-साथ गणपति बप्पा की मनमोहक प्रतिमाएं विराजमान की गई है। शनिवार को कलश स्थापना व विशेष पूजा के बाद मथुरा से आए विद्वानों द्वारा श्रीराम चरित्र मानस नवाहृ पारायण पाठ विधिवत तरीके से शुरू किया गया। आचार्य श्रीराधाकांत जी महाराज के नेतृत्व में 25 ब्राह्मण सोशल डिस्टेंस बनाकर नवाहृ पारायण पाठ कर रहे हैं। अब नवरात्र के नौंवी तक हर दिन सुबह 09:00 से 10:00 बजे और 10:30 से 01:00 बजे तक नवाहृ पारायण पाठ होगा। शाम में आरती व कीर्तन भी किया जाएगा। बता दें कि सुबह में कलश स्थापना के लिए विशेष पूजा शिवकैलाश डालमिया उर्फ मुन्ना डालमिया और रेणु डालमिया ने संयुक्त रूप से की।

25 को समापन
श्री डालमिया ने बताया कि नवाहृ पारायण पाठ 25 अक्टूबर को हवन के बाद समाप्त होगा। सभी विद्वानों के ठहरने से लेकर खाने-पीने तक की उचित व्यवस्था की गई है। इधर, शहर के गोलपत्थर स्थित हनुमान मंदिर में श्रीराम जय राम जय जय राम का अखंड पाठ चल रहा है। इस पाठ में भी ब्राह्मणों के बीच सोशल डिस्टेंस को मेंटेंन किया गया है।

साढ़े तीन फीट की है भगवान की प्रतिमाएं

श्रीरामचरित्र मानस नवाहृ पारायण यज्ञ समिति के अध्यक्ष शिवकैलाश डालमिया ने बताया कि वैश्विक आपदा के कारण इस बार सार्वजनिक स्थान पर रामकथा का आयोजन नहीं हो रहा है। शुरू से चली आ रही परंपरा का निर्वहण करने के लिए डालमिया हाउस में ही नवाहृ पारायण पाठ किया जा रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें