पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

उपलब्धि:जिलास्कूल को घोषित किया रीजनल टीचर ऑफ चेंज

गयाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • विभिन्न जिलों के 25 एटीएल को एक्टिव करने की जिम्मेवारी
  • हरेक माह आयोग को भेजी जाएगी प्रोग्रेस रिपोर्ट

गया के प्रतिष्ठित विद्यालयों में शुमार प्लस टू जिलास्कूल को नीति आयोग ने रीजनल टीचर ऑफ चेंज घोषित किया है। इसके तहत जिलास्कूल को बिहार के विभिन्न जिलों में संचालित अटल टिंकरिंग लैब (एटीएल) को एक्टिव करने की जिम्मेवारी दी गई है। बिहार में कुल 70 एटीएल हैं। नीति आयोग द्वारा 25-25 एटीएल का एक ग्रुप बनाकर इसे नियमानुसार संचालन करने की जवाबदेही रीजनल टीचर ऑफ चेंज के रूप में चयनित स्कूलों को दी गई है। इससे पहले नीति आयोग ने जिलास्कूल को सिस्टर एटीएल घोषित किया था। एटीएल इंचार्ज डॉ. देेवेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि जहानाबाद, नालंदा, नवादा, औरंगाबाद, रोहतास, कैमूर, बक्सर और बांका जिले के 25 एटीएल को एक्टिव करने की उन्हें जिम्मेवारी दी गई है।

नीति आयोग की टीम आयोजित करेगी वेबिनार
एक्टिवेशन के लिए बनाए गए अलग-अलग ग्रुपों के बीच नीति आयोग की टीम वेबिनार का आयोजन करेगी। जिलास्कूल के एटीएल इंचार्ज श्री सिंह ने बताया कि वेबिनार के जरिए लैब शुरू करने, डैशबोर्ड भरने, फाइनेंस का इस्तेमाल, लैब स्थापित करने आदि की जानकारी संबंधित एटीएल स्कूलों को दी जाएगी। साथ ही प्रत्येक माह इसकी रिपोर्ट आयोग को भेजी जाएगी।

बिहार के पांच स्कूल अटेंड कर रहे ऑनलाइन क्लास
राज्य के एटीएल स्कूल कितने एक्टिव हैं, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि आयोग द्वारा संचालित ऑन लाइन क्लास को यहां के सिर्फ पांच स्कूल अटेंड कर रहे हैं। जबकि बिहार में सत्तर एटीएल हैं। पिछले पांच अप्रैल से ही एटीएल इंचार्ज और बच्चों के लिए ऑन लाइन क्लास संचालित हैं। जिसमें गया का जिलास्कूल और संध्या मॉर्डन हाईस्कूल दुबहल के बच्चे शामिल हो रहे हैं।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप धैर्य व विवेक का उपयोग करके किसी भी समस्या को सुलझाने में सक्षम रहेंगे। आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। परिवार के लोगों की छोटी-मोटी जरूरतों का ध्यान रखना आपको खुशी प्र...

और पढ़ें