पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बैठक:दुकानदारों व ट्रेनों से आने वाले यात्रियों की कोरोना जांच औचक रूप से रहेगी जारी, इनकार पर कार्रवाई

गयाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला पदाधिकारी गया अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में समाहरणालय सभाकक्ष में कोविड 19 से संबंधित किये जा रहे कार्यों को लेकर बैठक की गई। इसमें कोविड जांच, कोविड टीकाकरण, समुचित इलाज़, चिकित्सकों की उपस्थिति, दवा की उपलब्धता, ऑक्सीजन की उपलब्धता, कंटोनमेंट जोन की स्थिति एवं कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन, भीड़ भाड़ वाले क्षेत्रों में कोविड जांच इत्यादि की समीक्षा करते हुए पदाधिकारियों एवं चिकित्सकों को आवश्यक निर्देश दिए गए। जिला पदाधिकारी द्वारा कोलकाता, मुम्बई, नई दिल्ली इत्यादि स्थानों से आने वाले ट्रेनों, नार्थ ईस्ट कामाख्या एक्सप्रेस सहित अन्य रेल गाड़ियों से आने वाले यात्रियों का औचक कोरोना जांच जारी रखने का निर्देश दिया गया।

850 रेलयात्रियों की जांच में सभी निगेटिव मिले
बैठक में बताया गया कि औचक निरीक्षण के क्रम में रेल यात्रियों का लगभग 850 कोविड जांच किया गया, जिसमे एक भी पॉजिटिव नहीं पाया गया। साथ ही पूरे जिले में कुल 5,861 कोरोना जांच की गई, जिसमे से 02 पॉजिटिव पाए गए। सैंपल जांच का विवरण इस प्रकार है - रैपिड एंटीजन में 3,659 सैंपल की जांच की गई, जिसमे 02 पॉजिटिव पाए गए, ट्रूनेट में 200 एवं आरटीपीसीआर में 2,002 सैंपल की जांच की गई।

दुकानदारों की कोरोना जांच अनिवार्य
बैठक में जिलाधिकारी ने निदेश दिया है कि भीड़ भाड़ वाले बाजारों के दुकानदारों, सभी मार्किट के फल दुकान, दवा दुकान, मिल्क पार्लर से संबंधित व्यक्तियों/दुकानदारों को भी कोरोना जांच अनिवार्य होगा। कोरोना जांच नही कराने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। बैठक में सहायक समाहर्त्ता, अपर समाहर्त्ता, अपर समाहर्त्ता (लोक शिकायत), जिला भूअर्जन पदाधिकारी, एएसपी, अधीक्षक, एएनएमएमसीएच, एसएमओ, डब्लूएचओ, जिला नजारत उप समाहर्त्ता, जिला जन संपर्क पदाधिकारी, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, विशेष कार्य पदाधिकारी, वरीय उप समाहर्त्तागण सहित अन्य पदाधिकारी एवं चिकित्सक उपस्थित थे।

जांच न कराने वालों पर होगी कार्रवाई
जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि जिले में टीकाकरण का कार्य शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक स्तर से चलाया जा रहा है। टीकाकरण का कार्य जिले के सभी क्षेत्रों में तेजी से चलाया जा रहा है। लोगों में टीकाकरण के प्रति उत्साह एवं विश्वास उत्पन्न हो रहा है। लोग अब टीकाकरण के प्रति काफी संवेदनशील हो रहे हैं तथा अफवाह एवं भ्रांतियों को दूर करते हुए टीकाकरण के लिए आगे आ रहे हैं।

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि आज पूरे जिले में 8,210 टीकाकरण किया गया, जिसमे टीका एक्सप्रेस के माध्यम से 2,327 टीकाकरण किया गया। गया शहरी क्षेत्र में 873 लोगो को टीका लगाया गया। 250 टीका सत्र स्थल बनाये गए थे।

पुलिस रोकेगी तो डिलीवरी बॉय को कोरोना से संबंधी देना होगा प्रमाण
बैठक में बताया गया कि कल दिनांक-19 जून को नगर निगम में नगर निगम कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। नगर निगम कार्यालय में ही टीका सत्र स्थल बनाया जाएगा। वहीं सोमवार को जिले के विभिन्न गैस एजेंसी से संबंधित एलपीजी (रसोई गैस सिलिंडर) के ठेला वेंडरो एवं कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। समीक्षा बैठक में डिलीवरी बॉय की कोरोना सैंपल टेस्ट कार्य की समीक्षा के क्रम में जिला पदाधिकारी द्वारा निदेश दिया गया कि विभिन्न एजेंसियों के डिलीवरी बॉय का कोरोना जांच हर हाल में करावें, क्योंकि ये डिलीवरी बॉय घर-घर जाकर सामान की डिलीवरी करते है।

अतः वे अन्य लोगों को भी संक्रमित कर सकते हैं। बैठक में निर्देश दिया गया कि इन डिलीवरी बॉय के कोरोना जांच संबंधी प्रमाण पत्र देखने के पश्चात ही इन्हें सामग्रियों की डिलीवरी करने हेतु घर घर जाने की अनुमति दी जाएगी। पुलिस द्वारा रोकने पर इन्हें कोरोना जांच संबंधी प्रमाण पत्र देना अनिवार्य होगा। बैठक में विशेष कार्य पदाधिकारी द्वारा बताया गया की बिग बाजार, ऐमज़ॉन सहित कुछ अन्य डिलीवरी बॉय द्वारा जांच करायी गई है।

खबरें और भी हैं...