पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ऑनलाईन आवेदन:आम व अमरुद के नए बाग लगाने पर किसानों को मिलेगा 50% अनुदान

गयाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पांच एकड़ से दो हेक्टेयर जमीन वाले ही कर सकते हैं आवेदन

शुक्रवार को वर्तमान मानसून के मौसम में जिला में विभिन्न योजनाओं अन्तर्गत किए जाने वाले पौधरोपण की समीक्षा बैठक में सहायक निदेशक उद्यान ने जानकारी दी कि उद्यान निदेशालय से प्राप्त लक्ष्य के अनुसार गया जिला में इस वर्ष फलदार वृक्षों में आम का 25 हेक्टेयर एवं अमरुद का 05 हेक्टेयर के नए बाग लगाने की योजना की स्वीकृति प्राप्त हुई है।

योजना अन्तर्गत न्यूनतम 0.5 एकड़ एवं अधिकतम 02 हेक्टेयर में बाग लगाने के लिये आवेदन कर सकते हैं। आनलाईन आवेदन उद्यान निदेशालय के वेबसाईट horticulture.bihar.gov.in पर दिए गए लिंक के माध्यम से कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि आवेदन करने लिए किसान का डीबीटी पॉर्टल से पंजीकरण आवश्यक है। इसके अतिरिक्त किसान के पास लगाए जाने वाले खेत की अद्यतन रसीद एवं एलपीसी होना आवश्यक है। सिटी रिपोर्टर| गया की हार्डकाॅपी को प्रखण्ड उद्यान पदाधिकारी के माध्यम से सहायक निदेशक कार्यालय में जमा कराना होता है।

50 फीसदी मिलेगा अनुदान
वहीं उन्होंने बताया कि एक हेक्टेयर में आम के 4 सौ पौधे एवं अमरुद के 11 सौ11 पौधे लगेगें। आम एवं अमरुद का नया बाग लगाने की कुल लागत 01 लाख रुपए है, जिसमें सरकार द्वारा 50 प्रतिशत सहायता अनुदान दिया जा रहा है। सहायता अनुदान तीन किस्तों में तीन वर्षों में देय होती है। पहले वर्ष 60 प्रतिशत दूसरे वर्ष लगाए गए पौधों का 75 प्रतिशत जीवित रहने पर एवं तीसरे वर्ष लगाए गए पौधों में 90 प्रतिशत जीवित रहने पर

बची हुई राशि 20 प्रतिशत प्रतिवर्ष की दर से दी जाती है। किसानों को पौधा प्राप्त करते समय पहले वर्ष दिए जाने वाली अनुदान की राशि का 10 प्रतिशत विभाग को देना होता है। किसानों के द्वारा पौधों को लगा लिए जाने के बाद इस राशि को उनको वापस लौटा दिया जाता है।

खबरें और भी हैं...