बोधगया में मिली नोएडा के शख्स की डेडबॉडी:कमरे में सिलेंडर और चेहरे पर लगे ऑक्सीजन मास्क देख डरे पुलिसकर्मी; कोरोना संक्रमित होने की आशंका

गया6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लुम्बिनी होटल में 9 जनवरी को ठहरने आए थे मृतक प्रमोद सिंह। - Dainik Bhaskar
लुम्बिनी होटल में 9 जनवरी को ठहरने आए थे मृतक प्रमोद सिंह।

बोधगया थाना क्षेत्र के लुम्बिनी होटल में नोएडा के एक व्यक्ति की डेड बॉडी मिलने से हड़कंप मचा है। पुलिस भी इस मामले में उलझी पड़ी है। उसकी उलझन का कारण कमरे में ऑक्सीजन सिलेंडर का मिलना और डेड बॉडी के फेस पर ऑक्सीजन मास्क का लगा होना है। नोएडा के उस व्यक्ति की मौत कैसे हुई। इस बात की तहकीकात में पुलिस जुट गई है।

पुलिस भी इस मामले को लेकर डरी हुई है। वह फिलहाल बॉडी के पास नहीं फटक रही है। दबी जुबान से पुलिस का कहना है कि मरने वाला कहीं कोरोना से ग्रसित तो नहीं था।

बोधगया में रिश्तेदार की तलाश में जुटी पुलिस

मृतक की पहचान 55 साल के प्रमोद सिंह को तौर पर हुई है। होटल के रजिस्टर में उनका पता नोएडा के सेक्टर 62 का दर्ज है। वह 9 जनवरी को लुम्बिनी होटल में ठहरने आए थे। दूर के एक रिश्तेदार बोधगया में ही रहते हैं। उनकी तलाश में पुलिस वाले फिलहाल जुटे हैं।

लुम्बिनी होटल के कर्मचारियों के मुताबिक गुरुवार की सुबह दस बजे बाद तक भी कमरा संख्या 107 का दरवाजा नहीं खुला तो अटेंडेंट ने दरवाजा खट-खटाना शुरू किया। पर दूसरी ओर से कोई भी जवाब नहीं मिला तो सभी सकते में पड़ गए। घटना की जानगारी पुलिस को दी गई।

मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो बेड पर डेडबॉडी पड़ी मिली। लेकिन चेहरे पर ऑक्सीजन मास्क लगा देख पुलिस भी एक कदम पीछे हट गई। पुलिसवालों ने इस घटना की जानकारी अपने वरीय अधिकारियों को दी। तब से लेकर अब तक पुलिस वाले लुम्बिनी होटल के बाहर डेरा डाले हैं। जांच चल रही है। बॉडी को कब्जे में लिए जाने की तैयारी शुरू हो गई है।

बोधगया थानाध्यक्ष रुपेश कुमार का कहना है कि मामले की जांच खुद एसडीपीओ ही कर रहे हैं। एसडीपीओ का कहना है कि जांच के बाद ही प्रमोद सिंह के मौत की वजह पता चल सकेगी। पुलिस सभी एंगल पर काम कर रही है।