साइबर क्राइम के शिकार हुए DPO:डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर राजेश कुमार का फर्जी सोशल मीडिया प्रोफाइल बना रुपए मांग रहा ठग

गया9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गया SSP को आवेदन देकर ठग के खिलाफ कार्रवाई की मांग की

जिला ग्रामीण विकास अभिकरण विभाग में कार्यरत डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम अफसर राजेश कुमार साइबर ठगों का शिकार हो गए हैं। उनका फर्जी सोशल मीडिया अकाउंट बनाकर जान-पहचान के लोगों से रुपए मांगे जा रहे हैं। इस फर्जी सोशल मीडिया प्रोफाइल में उनका नाम और उनकी ही तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है। राजेश कुमार ने गया SSP को शिकायती आवेदन देकर ठग के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। हालांकि राजेश कुमार का कहना है कि उनका अकाउंट हैक कर लिया गया है। जबकि असल में उनके प्रोफाइल की क्लोनिंग की गई है।

फर्जी प्रोफाइल में एक नाम और मोबाइल नंबर

राजेश कुमार बताते हैं कि बीती 12 मार्च को जानकारी हुई कि उनका सोशल मीडिया अकाउंट किसी ने हैक कर लिया है। उन्होंने बताया कि मेरा अकाउंट आइडी rajeshkhiri@ymail.com है। फर्जी फेसबुक अकाउंट में मेरा नाम और फोटो है। लेकिन उसके प्रोफाइल की जानकारी में सुरेंद्र राणा का नाम और एक मोबाइल नंबर 9837409852 दिख रहा है। यह व्यक्ति लोगों से पैसे की उगाही करने में जुट गया है। उसने हमारे ही एक मित्र जगमोहन को चूना लगाया है। पैसे का लेनदेन मोबाइल नंबर 8685961940 से किया गया है। उन्होंने बताया कि फर्जी प्रोफाइल का लिंक http://www.facebook.com/surendra.rana3304673 है।

गया SSP आदित्य कुमार ने संबंधित मामले को फिलहाल तकनीकी सेल को दे दिया है। साथ ही तत्काल प्रभाव से कार्रवाई करते हुए आरोपी को ढूंढ निकालने का आदेश दिया है।

जयपुर पुलिस ने लखीसराय से ऐसे ही खिलाड़ी को पकड़ा

IAS-IPS और ऐसे बड़े अफसरों की सोशल मीडिया प्रोफाइल की तस्वीर निकाल फर्जी एकाउंट बनाना और फिर मैसेंजर के जरिए उनके जानने वालों से ठगी करना- यह खूब चल रहा है। पूरे देश में। बिहार में तो पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, DG आलोक राज, DIG मनु महाराज, प्रधान सचिव संजय कुमार भी शिकार हो चुके हैं, लेकिन अबतक बिहार पुलिस ने ऐसा गोरखधंधा करने वाले किसी को नहीं पकड़ा था। अब बिहार के लखीसराय से जयपुर पुलिस ऐसे ही एक खिलाड़ी राकेश कुमार झा को उठा ले गई। वह राजस्थान के अपर मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह की फर्जी ID बना उनके जानने वालों से 30 हजार रुपए ठगी में पकड़ा गया। राकेश का बाप रामकुमार झा नोट डबल करने की ठगी का धंधा के लिए कुख्यात है।

मैसेंजर पर ठगी का उस्ताद पकड़ाया: IAS-IPS अफसरों का प्रोफाइल बना मांगता था पैसे, राजस्थान के अपर मुख्य सचिव के नाम पर ठगी कर फंसा

खबरें और भी हैं...