कोर्ट का फर्जी पेपर बनाने में गया से दंपती गिरफ्तार:हरिद्वार पुलिस ले गई अपने साथ, गिरोह की तरह पूरा परिवार कर रहा काम

गया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तराखंड की धर्म नगरी हरिद्वार जिले की पुलिस गया के राजेंद्र पथ में रहने वाले दंपती मिथिलेश शर्मा और सुमन कुमारी को गिरफ्तार कर अपने साथ ले गई। इनके खिलाफ, मारपीट, उत्पीड़न, संपत्ति हड़पने का केस दर्ज है। साथ ही कोर्ट का फर्जी दस्तावेज तैयार कर जज का दस्तखत करने व कोर्ट को गुमराह करने का भी गंभीर आरोप है। यह लंबे समय से फरार चल रहे थे। कोर्ट द्वारा बार-बार सम्मन जारी होने के बाद भी वह अदालत में पेश नहीं हो रहे थे। फिलहाल उनका लड़का निखिल भारद्वाज और बेटी स्वाति कुमारी इसी मामले में फरार चल रहे हैं।

कई मामले में चल रहे थे फरार

खास बात यह है भी कि पकड़ी गई दंपती के खिलाफ न केवल हरिद्वार बल्कि पंजाब के कपूरथला, और पुणे के सीजीएम कोर्ट में भी मुकदमा दर्ज है। ये सभी जगह से अब तक फरार चल रहे थे। कोर्ट ने कुर्की का भी आदेश दे रखा है। इन तमाम जगहों पर गंभीर धाराओं में केस दर्ज है।

सुमन कुमारी है पूरे गिरोह की मास्टर माइंड

मिथिलेश शर्मा की बेटी स्वाति पर भी कई मुकदमे देश के विभिन्न शहरों में चल रहे हैं। स्वाति पर पुणे, हरिद्वार, मुजफ्फरपुर, पटना, मुंबई, नई दिल्ली, कपूरथला में केस चल रहे हैं। पकड़े गए दंपती और उनके बेटे-बेटियां एक गिरोह के रूप में कार्य कर रहे हैं। पहले वह इकलौती संतान वाले से शादी रचाते हैं और फिर उनकी संपत्ति हड़पने के लिए तमाम तरह के हथकंडे अपनाते हैं। इन लोगों की चपेट में आने वाले तीन-चार परिवार इनसे बुरी तरह से त्रस्त हैं। सूत्रों का कहना है कि इस गिरोह की मास्टर माइंड सुमन कुमारी ही है।

गिरफ्तार करने आई हरिद्वार के सिडकुल थाने की पुलिस के आईओ रघुवीर सिंह ने बताया कि आरोपियों की लंबे समय से तलाश थी। कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया है।