पति ने गर्लफ्रेंड के साथ मिलकर पत्नी को मार डाला:अवैध संबंध का करती थी विरोध, तीन लोगों ने मिलकर की हत्या, कपड़े भी जलाए

गया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने तीनों को जेल भेज दिया। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने तीनों को जेल भेज दिया।

गया के कोंच प्रखंड के सिंंदुआरी नहर के निकट से बुधवार को बरामद अर्ध नग्न महिला के हत्याकांड का पुलिस ने 48 घंटे के अंदर उद्भेदन कर लिया है। एसएसपी हरप्रीत कौर ने शुक्रवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि उक्त महिला की हत्या अवैध संबंध को लेकर पति की प्रेमिका ने दो अन्य लोगों के सहयोग से कराया था। इस पूरे मामले की जानकारी पति को भी थी।

हत्याकांड को लेकर पुलिस ने मृतका किरण देवी के पति भोला पासवान, उसकी प्रेमिका अनिता देवी एवं घटना को अंजाम देने वाले रामकृष्ण शर्मा उर्फ डिमल शर्मा को गिरफ्तार किया है। एसएसपी ने बताया कि रामकृष्ण पूर्व में भी जेल जा चुका है।

दरअसल, बुधवार को कोंच थाना क्षेत्र के सिंदुआरी गांव स्थित बड़की नहर के पास से पुलिस ने एक महिला का अर्द्धनग्न शव बरामद किया था। महिला के शव को जलाकर उसकी पहचान मिटाने की कोशिश भी की गई थी। बाद में मृतका की पहचान औरंगाबाद जिला के उपहारा थानांतर्गत बेला गांव निवासी भोला पासवान की पत्नी किरण देवी के रूप में हुई थी। एसएसपी ने बताया कि मृतका की मां दौलती देवी एवं बहन जूली कुमारी ने शव की शिनाख्त की थी। जांच में इस बात का भी खुलासा हुआ कि मृतका गर्भवती थी।

अवैध संबंध में की गई हत्या

एसएसपी ने बताया कि मृतका के पति भोला पासवान का अवैध संबंध उसी के गांव के रहने वाले शैलेश पासवान की पत्नी अनिता देवी के साथ पिछले पांच-छह सालों से थे। यही नहीं बीते एक वर्ष से अनिता का संबंध ददरेजी गांव निवासी रामकृष्ण शर्मा उर्फ डिमल शर्मा से चलने लगा। इस अवैध संबंध को लेकर मृतका किरण देवी अक्सर विरोध करती थी। उसके विरोध से तंग आकर भोला पासवान, अनिता देवी व रामकृष्ण तीनों ने मिल कर किरण की हत्या की साजिश रची। किरण को अनिता ने झांसे में लिया और कहा कि जिस जगह पर तुम्हारे पति से अक्सर मिलते हैं। उस जगह को हम दिखाते हैं। आ जाओ। इस पर किरण अकेले ही कोंच थाना क्षेत्र के ददरेजी चली गई। वहां तीनों ने मिल कर किरण को कब्जे में ले लिया और रामकृष्ण ने गमछे से उसका गला घोंट दिया। अनिता और भोला पासवान किरण हाथ पैर पकड़ रखे थे। इसके बाद रात के अंधेरे में उसके शव को सिंदुआरी नहर के निकट फेंक दिया। साथ ही किरण की पहचान छिपाने के लिए कपड़े में आग लगा दी।

खबरें और भी हैं...