पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Gaya
  • In Fatehpur's Machark Village, An Earthen House Collapsed Due To Rain, Floods In Dhadhar River, Villagers In Panic

परेशानी का आलम:फतेहपुर के मचरक गांव में बारिश से मिट्टी का घर गिरा, ढाढर नदी में आई बाढ़, दहशत में आए ग्रामीण

फतेहपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गुरारू-मंझार सड़क के कई स्थानों पर भरा लबालब पानी

फतेहपुर थाना क्षेत्र के मचरक गांव में गुरुवार को बारिश से बाढ़ो यादव का मिट्टी का घर गिर गया। इसमें घर वाले बाल-बाल बच गए और एक बड़ा हादसा होने से टल गया। बाढ़ो यादव ने बताया कि उसका मिट्टी और खपड़ा का घर पुराना व कमजोर हो गया है। पिछले पांच दिनों से लगातार हो रही बारिश का पानी घर के चारो तरह जमा हो गया। बारिश का पानी मिट्टी के दीवार में पेसता चला गया। इस कारण वह धीरे-धीरे कमजोर होता चला गया और गुरुवार को अचानक गिर गया। उसने बताया कि जिस समय घर गिरा उस समय वहां पर घर के कोई सदस्य नहीं थे।

इस कारण सभी घर वाले बच गए। उन्होंने कहा कि भगवान का लाख शुक्र है कि एक बड़ी हादसा होने से टल गया। इधर, घर गिरने की सूचना पाकर पंसस शिंकु कुमारी, समाजसेवी आशीष कुमार व जाप नेता प्रेम कुमार बाढ़ो यादव के घर पहुंचे और पीड़ित परिवार से मिले। उन्होंने बताया कि बाढ़ो यादव काफी गरीब हैं। घर गिर जाने से उनके समक्ष रहने की समस्या उत्पन्न हो गई। उन्होंने इंदिरा आवास और सहायता राशि मुहैया कराने की मांग डीएम से की है।

फतेहपुर में मूसलाधार बारिश से ढाढर नदी में आई बाढ़
फतेहपुर में पिछले छह दिनों से हो रही मूसलधार बारिश से ढ़ाढ़र नदी में बाढ़ आ गया। सोहजना-दोनैया के पास बना बराज का गेट बंद रहने से पानी डुमरीचट्टी तक दोनों छोर लबालब भर गया और स्थिति काफी गंभीर बन गया। ऐसी स्थिति को देख बराज का गेट उठाया गया। इसके बाद पानी निकलने पर नदी में पानी कम हुआ और लोगों ने राहत ली। फतेहपुर में रविवार से ही मूसलाधार बारिश हो रही है।इससे ढ़ाढ़र नदी में काफी तेजी से पानी आ गया। गुरुवार को दिन से ही ढ़ाढ़र नदी में पानी आ शुरू हो गया और शाम तक नदी पानी से लबालब भर गया तथा बाढ़ आ गया।

तिलैया ढ़ाढ़र बराज का गेट गिरे रहने तथा पानी का आगे निकास बंद हो जाने के कारण पानी अगल-बगल के गांवों में घुसने की स्थिति में पहुंच गया। इसके बाद बराज के गेट को उठाया गया और पानी को छोड़ा गया। तब पानी का दबाव कम हुआ। नदी में पानी आने से नीचे चले गए जल स्तर ऊपर आ गया है। नदी के किनारे बसे गांवों में जल स्तर बढ़ गया।

बारिश से गुरारू में कई सड़कों की स्थिति बनी नारकीय
लगातार बारिश से गुरारू प्रखंड के कई क्षेत्रों में जलजमाव होने से लोगों की परेशानी बढ़ गई है। गुरुवार को भी पूरे दिन यहां रुक - रुक कर बारिश होती रही। बारिश से गुरारू बाजार से स्टेशन रोड जाने वाली सड़क पर कीचड़ व जलजमाव से लोगों को आवाजाही में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। गुरारू - मंझार सड़क की स्थिति भी नारकीय बन गई। इस सड़क पर जगह - जगह भीषण जलजमाव हो गया। बहेरा महादलित टोला व कोंची क्रांतिनगर महादलित टोले में भी जलजमाव व कीचड़ का साम्राज्य कायम हो गया। गुरारु पंचायत के बहबलपुर टोला कैलाशपुर में भीषण जलजमाव हो गया।

खबरें और भी हैं...