गया के विष्णुपद मंदिर से निकलेगी भगवान राम की बारात:पिछले साल नहीं हो सका था आयोजन, इस बार विधि-विधान से होगी शादी

गया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गया का प्रसिद्ध विष्णुपद मंदिर। - Dainik Bhaskar
गया का प्रसिद्ध विष्णुपद मंदिर।

विष्णुपद मंदिर परिसर में 7 दिसंबर से तीन दिवसीय श्री राम विवाह महोत्सव का आयोजन शुरू होने जा रहा है। इस कार्यक्रम को लेकर विष्णुपद मंदिर सहित पूरे परिसर को एलइडी बल्बों में व फूल माला से सजाने का काम किया जा रहा है।

विष्णुपद मन्दिर प्रबन्धकारिणी समिति के अध्यक्ष शम्भू लाल बिट्ठल ने बताया कि 7 दिसंबर की शाम 5:00 बजे श्री विष्णुपद मंदिर से गाजेबाजे के साथ भगवान श्रीराम की बारात निकाली जाएगी । कोरोनावायरस की वजह से विष्णुपद क्षेत्र में ही बारात भ्रमण करेगी। मंदिर पहुंचकर समाप्त हो जाएगी। अगले दिन 8 दिसंबर को मंदिर परिसर में बने मंडप में भगवान श्री राम का विवाह संपन्न होगा।

2020 में नहीं हो सका था आयोजन

जानकारों के अनुसार इस मंदिर के स्थापना काल से श्री विष्णुपद मंदिर में यह कार्यक्रम आयोजित होता चला आ रहा है। बीते वर्ष 2020 में इस आयोजन पर ब्रेक लग गया था। कोरोनावायरस के स्थिति सामान्य होने के बाद समिति द्वारा इस बार भव्य तरीके से श्री राम विवाह महोत्सव का आयोजन करने का निर्णय लिया गया है। बारात इस बार शहर का भ्रमण नहीं करेगी।कार्यक्रम के तहत सभी दिन शासन प्रशासन द्वारा कोरोना से बचाव को लेकर जारी सभी दिशा निर्देशों का पालन किया जाएगा।

श्री राम विवाह महोत्सव का इस बार 20 ब्राह्मण गवाह बनेंगे

योजन के पहले दिन यानी मंगलवार की शाम श्री विष्णुपद मंदिर से श्री राम की गाजेबाजे के साथ बारात निकलेगी। भीड़ से बचने की इस बार बारात में बारातियों की संख्या काफी कम होगी। दूसरे दिन यानी 8 दिसंबर को श्री विष्णुपद मंदिर के मंडप में श्री राम विवाह उत्सव का आयोजन होगा।

स्वामी राम आचार्य व स्वामी मुरलीधर सहित 20 ब्राह्मणों के द्वारा उच्चारित वैदिक मंत्रों के बीच राम विवाह संपन्न होगा। उन्होंने बताया कि इस बार वर्ग पक्ष की कमान अवधेश पांडे व वधू पक्ष की कमान विष्णुकांत संभालेंगे ।आयोजन के तीसरे दिन यानी 9 दिसंबर को भंडारे के साथ दरिद्र नारायण, लक्ष्मी नारायण का भोजन का आयोजन किया जाएगा।