पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

उपलब्धि:माइक्रोप्रोपेगेशन तकनीक से बैंगन की हो रही खेती

गया12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गया में पहली बार इस तकनीक से रोग व कीटमुक्त बैंगन, मिर्च व टमाटर के पौधों से हो रही खेती

टिश्यू कल्चर पौधे एक सूक्ष्म फैलावयुक्त कलम या उसका एक क्लोन है, जो आनुवंशिक रूप से अपने पैरेंट प्लांट के समान होता है। इसमें विशेष रूप से अच्छे फूल, फल उत्पादन या अन्य वांछनीय लक्षण के पौधों के क्लोन का उत्पादन किया जाता है। बोधगया के शेखवारा के नंदिनी नर्सरी ने टिश्यू कल्चर पौधों की न सिर्फ बिक्री की जा रही है, बल्कि उन पौधों को अपने खेतों में भी लगाया है। हरी मिर्च, टमाटर व बैंगन के टिश्यू कल्चर पौधे उपलब्ध हैं। यह उतकों या अंगों को बनाए रखने या विकसित करने के लिए उपयोग की जाने वाली तकनीक है।

इसका व्यापक रूप से एक पौधे के क्लोन का उत्पादन करने के लिए उपयोग किया जाता है, जिसे माइक्रोप्रोपेगेशन के रूप में जाना जाता है। एक्सपर्ट जयजीत बताते हैं कि टिश्यू कल्चर पौधों से एक माह में ही फल टूटने लगता है। इसकी वेरायटी अच्छी होती है व कीटों का प्रकोप नहीं होता है। उत्पादन भी अधिक व लंबे समय तक होता है। आर्गेनिक फार्मिंग से लाभ ज्यादा है। उसने बताया, बोधगया के सहदेवखाप के अलावा बाराचट्टी प्रखंड के सोभ में टिश्यू कल्चर बैंगन की व्यवसायिक हो रही है। इसके अलावा कई अन्य जगहों पर भी पौधे लगाए गए हैं। जिले में पहली बार इस तकनीक से सब्जी की खेती शुरू हुई है।

कीट व रोग मुक्त होते हैं पौधें| टिश्यू कल्चर पौधे किसी भी तरह के कीट और रोग से मुक्त होते हैं और इससे खेती की लागत में भी कमी आती है। सभी पौधों में एक ही तरह का विकास होता है। इसका मतलब यह है कि सभी पौधे एक समान होते हैं और यही वजह है कि उत्पादन में भी अच्छी बढ़ोतरी देखने को मिलती है। इतना ही नहीं, कम समय में फसल भी तैयार हो जाती है।

कैसे होता है तैयार
नर्सरी संचालक संतोष कुमार ने बताया कि पौधे के उतकों का एक छोटा टुकड़ा उसके बढ़ते हुए ऊपरी हिस्से से लिया जाता है। इस टिश्यू के टुकड़े को एक जैली में रखा जाता है, जिसमें पोषक तत्व और प्लांट हार्मोन होते हैं। हार्मोन पौधे के ऊतकों में कोशिकाओं को तेजी से विभाजित करता है और इससे कई कोशिकाओं का निर्माण होता है। इन्हीं हार्मोन की वजह से ही पौधों के तने को विकास मिलता है। कैलस को जड़ और तने के साथ ही एक छोटे पौधे के रूप में अलग कर दिया जाता है। बाद में इस तरह के बाकी पौधों को भी मिट्टी में प्रत्यारोपित किया जाता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें