पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भूमिका का निर्वहन:अब गयावासियों के कर्तव्य की बारी, टीका लेकर खुद को रखें सुरक्षित: डीएम

बोधगयाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आने वाले दौर में मेडिकल इक्विपमेंट से स्वास्थ्य सेवा होगी बेहतर, द लाइट आफ बुद्धधर्म फाउंडेशन इंटरनेशनल ने जिला प्रशासन को उपलब्ध कराए 25 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

महामारी के दौर में सरकार व प्रशासन अपनी भूमिका का निर्वहन कर रही है। स्वयंसेवी संस्थाओं ने भी मेडिकल इक्विपमेंट डोनेट कर शहर की स्वास्थ्य सेवा को मजबूती प्रदान की है। अब गया वासियों की बारी है, वे अपने कर्तव्य का निर्वहन करें, खुद के अलावा परिवार को वैक्सीन दिलवाएं। इससे हम शहर को आने वाले चार-पांच माह में कोरोना महामारी से पूरी तरह बचा पाएगें। डीएम अभिषेक सिंह ने समाहरणालय में विभिन्न संस्थाओं से दान में मिली मेडिकल इक्विपमेंट प्राप्त करने के बाद उक्त बातें कही। उन्होंने उम्मीद जताया कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के साथ-साथ अन्य उपकरणों का नियमित प्रयोग किया जाएगा।

आने वाले दिनों में संभावित कोरोना संक्रमण के नए वेव के प्रति अभी से ही सचेत तथा बचाव हेतु तैयार रहना आवश्यक है। मास्क तथा सामाजिक दूरी का अनुपालन लगातार करते रहें तथा गया जिला का हर व्यक्ति टीका , तभी जिला कोरोना संक्रमण से पूर्ण रूप से सुरक्षित होगा। उन्होंने गया जिलावासियों से अनुरोध किया है कि आगे आकर स्वेच्छा से टीका लें, ताकि आप स्वयं को तथा अपने परिवारों को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रख

सके। कोविड-19 संक्रमण के बचाव एवं सुरक्षा के उद्देश्य से लाइट ऑफ बुद्धा धर्मा फाउंडेशन इंटरनेशनल इंडिया द्वारा 25 पोर्टेबल ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सहित अन्य मेडिकल इक्विपमेंट प्रदान किया गया। इस अवसर पर नजारत उप समाहर्ता शैलेश दास, जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी तथा वरीय उप समाहर्ता सह नोडल पदाधिकारी सामग्री कोषांग अभिषेक कुमार सहित अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

तमिलनाडु से भी मिली सहायता

40 लीटर क्षमता वाले 30 अदद मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर प्रोजेक्ट हेल्प इंडियन हॉस्पिटल, तमिलनाडु (भूमिका ट्रस्ट) के प्रतिनिधि द्वारा जिला पदाधिकारी को उपलब्ध कराया गया। डीएम ने कहा कि सभी बड़े ऑक्सीजन सिलेंडर संबंधित कोविड-19 अस्पतालों को दिया जाएगा। डीएम ने सभी 25 आॅक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन सहित अन्य उपकरणों को अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल, जयप्रकाश नारायण अस्पताल, सभी अनुमंडल अस्पताल, सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के बीच जरूरत के अनुसार उपलब्ध कराने को कहा। डीएम ने संबंधित संस्थाओं को जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग तथा गया जिलेवासियों की ओर से धन्यवाद दिया।

खबरें और भी हैं...