मेहमान नवाजी में ओमिक्रॉन के खतरे को न्योता:मंगोलिया से आए 23 VIP मेहमानों को 10 दिन क्वारैंटाइन करना था, पर प्रशासन ने नहीं किया

पटना/गया10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर एक तरफ विदेशी फ्लाइट बंद करने पर मंथन चल रहा है तो दूसरी तरफ विदेशियों की मेहमान नवाजी हो रही है। विदेशियों की यह मेहमान नवाजी कोरोना को लेकर बिहार में भारी पड़ सकती है। गृह मंत्रालय ने विदेशियों और विदेश यात्रा से आने वालों के लिए गाइडलाइन जारी की है, लेकिन इससे दरकिनार कर गया में विदेशियों की मेहमान नवाजी हो रही है। गुरुवार को मंगोलिया से मेहमानों का शिष्टमंडल गया पहुंचा। 10 दिन के क्वारैंटाइन के बजाए विदेशी मेहमानों की निगेटिव जांच रिपोर्ट पर ही महाबोधि मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश दे दिया गया है।

जानिए, क्या है विदेशियों को लेकर नियम

कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर गृह मंत्रालय भारत सरकार ने जो आदेश जारी किया है उसके मुताबिक जो भी विदेशी भारत में आएंगे या फिर विदेश यात्रा से भारत में आते हैं उन्हें 10 दिनों तक सेल्फ क्वारैंटाइन होना है। बिहार में जो भी यात्री विदेश से आ रहे हैं, उनके लिए यही नियम बनाया गया है। विदेशियों को लेकर तो और भी अलर्ट किया गया है।

गुरुवार शाम शिष्टमंडल ने सबसे पहले बुद्ध की तपोस्थली ढुंगेश्वरी गुफा में मत्था टेका व ढुंगेश्वरी पर्वत की हसीन वादियों का लुत्फ उठाया।
गुरुवार शाम शिष्टमंडल ने सबसे पहले बुद्ध की तपोस्थली ढुंगेश्वरी गुफा में मत्था टेका व ढुंगेश्वरी पर्वत की हसीन वादियों का लुत्फ उठाया।

जानिए, क्या कहते हैं जिम्मेदार

बोध गया मामले में जब SDM इंद्रवीर से बात की गई तो उन्होंने कहा, 'विदेश से आने वाले मेहमानों के लिए 72 घंटे पहले की RT-PCR रिपोर्ट हर हाल में अनिवार्य है। उस रिपोर्ट में वह निगेटिव आते हैं तो उन्हें उनके गंतव्य तक जाने दिया जाएगा। उन्हें क्वारैंटाइन नहीं किया जाएगा।' वहीं, जब गृह विभाग के आदेश की बात की गई तो SDM ने कहा, 'ऐसा नहीं है। ऐसा तो पॉजिटिव रिपोर्ट के लिए आदेश है।'

इसी मामले में जब सिविल सर्जन डॉ केके राय से बात की गई तो उन्होंने कहा, 'पॉजिटिव आने वाले विदेशी को क्वारैंटाइन किया जाना है।' उनसे कहा गया कि यह पॉजिटिव वालों को तो आप क्वारैंटाइन करेंगे ही, लेकिन जो निगेटिव आ रहे हैं, उनके लिए क्या आदेश हैं? इस सवाल पर सिविल सर्जन का कहना था, 'हमें ठीक से याद नहीं आ रहा है। शायद एक बार वीसी हुई थी, तो उसमें बताया गया था कि निगेटिव आने वाले विदेशी को भी सात दिनों के लिए क्वारैंटाइन किया जाना है। पूरी जानकारी DPM नीलेश कुमार से पूछ लीजिए।'

सिविल सर्जन ने कहा- विदेश से आने वाला हर यात्री विदेशी

सिविल सर्जन का कहना है, 'विदेश से आनेवाला हर कोई विदेशी होता है। हम लोगों को अधिक फोकस अफ्रिकन कंट्री से आने वाले पर करना है। विदेशी तो नेपाल से आने वाले भी होते हैं। विदेशी कई तरह के हैं।' इस जवाब पर जब उनसे मंगोलिया से आए मेहमानों की जांच और क्वारैंटाइन के बाबत सवाल पूछा गया तो उन्होंने बताया, 'आज सुबह ही उनकी RT-PCR जांच हुई है।'

DM के CUJ नंबर पर भी नहीं मिला जवाब

गया के DM के मोबाइल नंबर 9473191244 पर कॉल किया गया और इस सवाल का जवाब पूछा गया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला है। पहले तो बताया गया कि OSD से बात कीजिए, लेकिन फिर कहा गया कि उन्हें ध्यान नहीं है। सवाल के जवाब के लिए जब बार-बार यह पूछा गया कि किससे बात की जाए, तो बताया गया कि उनके फोन पर कॉल आ रही है। यह कहकर फोन काट दिया गया।

दलाई लामा के आवासन स्थल का दर्शन करने गया 23 सदस्यीय शिष्टमंडल।
दलाई लामा के आवासन स्थल का दर्शन करने गया 23 सदस्यीय शिष्टमंडल।

गया में ऐसे हुई मेहमान नवाजी

कोरोना की दूसरी लहर के बाद पहली बार शुक्रवार सुबह विदेशी मेहमानों का शिष्टमंडल महाबोधि मंदिर पहुंचा। मंगोलिया संसद के अध्यक्ष जंदनशतर के नेतृत्व में आए 23 सदस्यीय शिष्टमंडल ने महाबोधि मंदिर के गर्भगृह में बुद्ध को नमन किया और मत्था टेका। इसके बाद दी- होली ट्री के नीचे आसन लगाकर ध्यान साधना की। बुद्ध की तपोस्थली ढुंगेश्वरी गुफा में मत्था टेका व ढुंगेश्वरी पवर्त की हसीन वादियों का लुत्फ उठाया।

खबरें और भी हैं...