• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Gaya
  • Poetry International Poetry Yatra On Buddha's Land Is Organized On 12 13, Joint Event Of Premchand Sahitya Sansthan And Magadha University Hindi Department

काव्य यात्रा का आयोजन:बुद्ध की धरती पर कविता-अंतरराष्ट्रीय काव्य यात्रा का आयोजन 12-13 को, प्रेमचंद साहित्य संस्थान और मगध विवि हिंदी विभाग का है संयुक्त आयोजन

बोधगया22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बुद्ध हज़ारों वर्षों से भारतीय ही नहीं विश्व कविता, कला और स्थापत्य को प्रेरित-प्रभावित करते रहे हैं। मगध विवि के हिंदी विभाग में बुद्ध की धरती पर कविता शीर्षक अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठी की तैयारी समिति की विशेष बैठक के बाद संगोष्ठी के संयोजक बीएचयू के प्रो सदानन्द शाही ने उक्त बातें कही। उन्होंने कहा कि हम बुद्ध की भूमि में एकत्र होकर कविता और कला की उस दुनिया का पुनः स्मरण ही नहीं बल्कि पुनः सृजन करना चाहते हैं। विश्व को अपने आलोक से आलोकित करने वाली मानवीय करुणा की धारा नए सिरे से अपने भीतर प्रवाहित होते अनुभव करना चाहते हैं।

बुद्ध की धरती पर कविता काव्य-यात्रा की श्रृंखला इसी उद्देश्य से आयोजित है। आयोजन सचिव डा राकेश कुमार रंजन ने बताया कि रविवार को इसके लिए अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठी की तैयारी समिति की विशेष बैठक हुई। यह यात्रा बुद्ध की निर्वाण भूमि कुशीनगर में (2019) से शुरू हुई और जन्मभूमि लुंबिनी में (2020) के बाद इस काव्य यात्रा की तीसरी कड़ी बोधगया में 12-13 नवम्बर 2022 को आयोजित की जा रही है।

दो दिन तक चलने वाले इस कार्यक्रम में हिन्दी ही नहीं भारतीय और विश्व कविता में बुद्ध की उपस्थिति पर विचार करेंगे ।देश भर से आने वाले कवियों की बुद्ध केन्द्रित कविताओं में अवगाहन करेंगे और इस तरह अपने भीतर बुद्ध की अवतारणा करेंगे। इस आयोजन में आलोक धन्वा, ज्ञानेंद्रपति, अरुण कमल, अवधेश प्रधान, प्रकाश उदय, प्रो राजेश कुमार मल्ल, मृत्युंजय कुमार सिंह, शैलेन्द्र प्रताप सिंह, अनिल कुमार सिंह, महेश आलोक, स्वप्निल श्रीवास्तव, नरेंद्र पुंडरीक, सुभाष राय, रमाशंकर सिंह आदि देश भर के कई महत्वपूर्ण कवि व लेखक शिरकत करेंगे।

खबरें और भी हैं...