गया आरपीएफ ने पर्स काटने वाली महिला को पकड़ा:गोद में बच्ची लेकर ट्रेन में पर्स काटती थी, चलती ट्रेन में करती थी वारदात

गया13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्त में आई महिला और बरामद ज्वेलरी। - Dainik Bhaskar
गिरफ्त में आई महिला और बरामद ज्वेलरी।

गया आरपीएफ ने चलती ट्रेन में महिला पैंसजरों के पर्स को काट कर रुपये- पैसे और ज्वेलरी पर हाथ साफ करने वाली महिला को गिरफ्तार किया है। महिला अपने साथ एक वर्ष की बच्ची को गोद में लिए हुई थी। आरपीएफ ने महिला के पास से सोना- चांदी से भरे दो पर्स भी बरामद किया है जो ट्रेन में सफर कर महिलाओं का था।

आरपीएफ रेल निरीक्षक ने पूनम कुमारी ने बताया कि आरपीएफ की टीम शनिवार को प्लेटफॉर्म नबंर दो तीन पर ड्यूटी पर तैनात थी। इस बीच वाराणसी आसनसोल पैसेंजर प्लेट नंबर 3 पर पहुंची। ओवरब्रिज के पास लगी बॉगी से एक महिला चॉलेटी क्लर का हैंडबैग लिए हुए उतरी। लेकिन पुलिस बल जैसे ही उसकी नजर पड़ी वह तेजी से भागने की कोशिश में जुट गई। लेकिन आरपीएफ की टीम ने उसे रोक लिया और उससे पूछताछ शुरू की तो वह कभी कुछ कभी कुछ बताने लगी।

इस पर पुलिस का शक गहराया और उसे अपना पर्स खोल कर दिखाने की बात कही गई। पहले तो वह पर्स दिखाने को तैयार नहीं हुई लेकिन जब उसे भय दिखाया गया तो उसने पर्स खोल कर दिखाया। पर्स के दो छोटे पर्स थे। उन दोनों पर्स को खोल कर देखा गया तो एक में से एक जोड़ी पायल, और एक मंगल सूत्र निकला। इसके अलावा एक जोड़ी सोने का झुमका भी निकला। पर्स के ऊपरी हिस्से पर श्री शारदा ज्वलेर्स गुप्ता मार्केट दिग्याडीह धनबाद लिखा था। वहीं दूसरे पर्स की जांच की गई तो उसमें से चांदी का एक लॉकेट और छह अदद गोदरेज की चाबी बरामद हुई।

इस पर उससे सख्ती के साथ पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वाराणसी आसनसोल पैसेंजर से सफर कर दो महिला सवारियों के साइड पर्स को काट कर ये दोनों पर्स निकाल लिया था। इस पर आरपीएफ ने उसे गिरफ्तार कर लिया। साथ ही जीआरपी में महिला के खिलाफ केस दर्ज कराया गया। बरामद किए गए सभी सामान का मूल्य 79500 रुपये आंकी गई है।