जयंती:सामाजिक चेतना के लिए याद रखे जाएंगे श्री बाबू

गयाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शुक्रवार को ज्ञान भारती आवासीय परिसर, बोधगया के सभागार में बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री श्री कृष्ण सिंह की 135वीं जयंती पर व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया। उक्त कार्यक्रम में कक्षा 10 से 12वीं तक के विद्यार्थियों ने हिस्सा लेकर बिहार के विकास में श्री बाबू के योगदान पर चर्चा की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विद्यालय के प्राचार्य राजीव कुमार ने कहा कि श्री बाबू सामाजिक समरसता एवं सामाजिक चेतना के लिए सदा याद रखे जाएंगे। उनके नेतृत्व में बिहार भारत का पहला राज्य बना। जहां स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद जमींदारी उन्मूलन हुआ। उन्होंने दलितों के लिए लाठी खाई। नव बिहार के निर्माण में बिहार केसरी प्रथम मुख्यमंत्री डॉ. श्री कृष्ण सिंह की अप्रितम कर्मठता, अनुकरणीय त्याग एवं बलिदान के लिए सदा याद रखा जाएगा। श्री बाबू के तैलचित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर एवं दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।

खबरें और भी हैं...