मांग:अर्जुन की हत्या की जांच को एसआईटी गठित हो: मांझी

गयाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • इजमाइल बलवा गांव का पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने किया दौरा,

जिले के टिकारी प्रखंड अन्तर्गत इजमाइल के बलवा गांव का दौरा मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्री सह हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (से.) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने किया। दौरा के क्रम में वे मृतक अर्जुन मांझी के परिजनों से मिले। दु:ख की घड़ी सांत्वना दिया। पूर्व सीएम को अपने बीच पाकर पीड़ित परिवार विलाप करने लगे। घटना की जानकारी दी कहा कि अर्जुन मांझी राजनीतिक कार्यकर्ता था। जब भी अनुसूचित जाति के लोगों पर कोई समस्या आती, मुखर होकर हस्तक्षेप करता।  बीते दिनों उसे धमकियां भी मिल रही थी। पीड़ित परिवार की बातों को सुन पूर्व सीएम ने कहा कि अर्जुन मांझी की मौत करंट लगने से नहीं हुई है, बल्कि कोई और कारण है। 
परिवार के एक सदस्य काे नौकरी देने की मांग:  उन्होंने अर्जुन मांझी की हत्या के लिए एसआईटी का गठन करने, मृतका की पत्नी शांति देवी को मुख्यमंत्री राहत कोष से चार लाख रुपए सहायता राशि देने, अर्जुन मांझी के किसी एक परिवार को सरकारी नौकरी देने, अर्जुन मांझी के पुत्र का नामाकंन कराने आदि मांगें रखीं। परिजनों से मुलाकात के दौरान पूर्व विधायक डॉ अनिल कुमार, मो. ग़ालिब मुखिया, महेंद्र पासवान मुखिया, मिथलेश शर्मा मुखिया, मिंकू, आकाश, दीपक, रामकेवल शर्मा , लवकुश कुमार आदि लोग मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...