डीईओ से मिला आश्वासन:शिक्षक नियोजन के अभ्यर्थियों ने डीईओ का घेराव किया, रिक्ति के तहत भर्ती की रखी मांग

गया3 महीने पहले

सातवें चरण के शिक्षक नियोजन के अभ्यर्थियों ने रिक्ति की गणना की मांग को लेकर डीईओ दफ्तर का घेराव किया। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि जिले में रिक्त पदों की गणना की जाए और फिर उसके अनुपात में ही मानकों के तहत भर्ती ली जाए। साथ ही उनका यह भी तर्क है कि गया एक बड़ा जिला है। यहां 24 प्रखंड है। बावजूद इसके यहां महज 1000 भर्ती निकाली गई हैं जबकि रिक्तियां इससे अधिक हैं। उन्होंने यह भी हवाला दिया कि इसके पड़ोस के सभी जिलों में यहां तीन गुणा अधिक भर्ती निकाली गई हैं। लेकिन यहां ऐसा कुछ नहीं है।

सातवें चरण का शिक्षक नियोजन भर्ती की प्रक्रिया शुरू होने वाली है। जिला शिक्षा विभाग की ओर से सातवें चरण के तहत 1000 शिक्षकों की भर्ती निकाली गई है। इस बात का शिक्षक अभ्यर्थी विरोध कर रहे हैं। यही वजह रही कि बड़ी संख्या में शिक्षक अभ्यर्थी जिला शिक्षा कार्यालय पहुंचे व कार्यालय के मुख्य द्वार पर ही बैठ गए। प्रदर्शनकारी करीब एक घंटे तक मैदान में डटे रहे। इसके बाद डीईओ राजदेव राम अपने कक्ष से निकले और प्रदर्शनकारियों से बातचीत की। प्रदर्शनकारियों को समझाने की उन्होंने कोशिश की पर वे नहीं माने। काफी देर तक जब प्रदशर्नकारी मैदान में डटे रहे तो एक बार फिर से डीईओ उनके बीच पहुंचे और उन्हें आश्वासन दिया कि उनकी मांग को उच्च अधिकारियों के समक्ष रखा जाएगा और उनके आदेश तहत ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...