भास्कर फॉलोअप:परिजन बयान से पलटे, कहा- नहीं पता कैसे हुई मौत

गयाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इन दिनों शहर में बेखौफ अवैध शराब का कारोबार धड़ल्ले से जारी है। पुलिसिया दबिश के बावजूद शराब का कारोबार धड़ल्ले से फल-फूल रहा है। कुछ ऐसा ही मामला गुरुवार को सामने आया था।जानकारी हो कि सिविल लाइंस थानांतर्गत पितामहेश्वर निवासी अमित कुमार के परिजनों ने बताया था कि अमित को शराब पीने की लत थी।

बीते बुधवार की रात अमित ने अंडा के साथ तीन बोतल देशी शराब का सेवन किया था। गुरुवार की सुबह अमित की तबियत अचानक बिगड़ गई। पहले उक्त युवक की आंखों की रौशनी चली गई और उल्टियां होने लगी। उसके बाद परिवार वालों ने आनन-फानन में शहर के एम्स हॉस्पीटल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी मौत हो गई। वहीं डॉक्टरों ने परिजनों को बताया कि मृतक के बॉडी से जहर का अंश मिला है। यह पुलिस का मामला है। उक्त सूचना पर मगध मेडिकल थाना की पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया। शुक्रवार को पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया गया। हालांकि शनिवार को जब परिजनों से आगे की कार्रवाई की बात की तो अपने बयान से पलट मृतक के करीबियों ने कहा नहीं पता कैसे हुई मौत?

उठने लगा सवाल, मृतक के बॉडी में कैसे मिला जहर का अंश?
वहीं परिजन अब कुछ भी बताने से कतरा रहे हैं। उनका कहना है कि बुधवार को दिन में मुर्गा चावल खाया था। उसके बाद उसकी तबियत बिगड़ी। परिजनों के बयान बदलने के बाद कई सवाल खड़ा होने लगा है। आखिर अमित के शरीर में जहर का अंश कैसे मिला? अगर उसकी मौत खाना खाने से हुई तो जहर बॉडी में कैसे मिला? बहरहाल जो भी हो पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारणों का खुलासा हो जाएगा?

महिला शराब कारोबारी को तलाश रही पुलिस

हालांकि मृतक अमित का मामला सामने आने के बाद पुलिस ने उक्त मामले को गंभीरता से लिया है। पितामहेश्वर इलाके में अवैध देशी शराब की धंधा करने वाली बुलुकिया उर्फ नथुनिया वाली नामक महिला की तलाश पुलिस ने शुरु कर दी है। शनिवार को उसके कई संभावित ठिकानों पर पुलिस ने छापेमारी भी की। लेकिन, अब तक उक्त महिला पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।

लेकिन, स्थानीय लोगों नाम नहीं छापने के शर्त पर बताया कि नथुनिया वाली कई वर्षों से अवैध शराब का धंधा कर रही है। उसके साथ पति मनोज और बेटा भी कारोबार में शामिल हैं। उसके द्वारा निर्भीक होकर शराब बेचा ही नहीं जाता है। बल्कि, शराब पीने वालों को घर में भी बैठाकर पिलाया जाता है। शराब कारोबारी नथुनिया वाली का बेटा गुड्डू शराब मामले में कई बार जेल भी जा चुका है।

बुलुकिया की गिरफ्तारी के लिए हो रही छापेमारी
मृतक के परिजन शराब पीने की बात से इंकार कर रहे हैं। लेकिन, मामला सामने आने के बाद बुलुकिया उर्फ नथुनिया वाली की गिरफ्तारी के लिए पुलिस द्वारा छापेमारी की जा रही है। शीघ्र ही वह पुलिस की गिरफ्त में होगी।

-हरप्रीत कौर, एसएसपी, गया

खबरें और भी हैं...