दीपोत्सव समारोह:समस्याओं का मूल कारण है आध्यात्मिक दरिद्रता

गयाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के सिविल लाइन थाना के समीप अवस्थित ब्रह्माकुमारी संस्थान में गुरुवार को दीपावली के अवसर पर आध्यात्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पार्षद सारिका बहन ने दीपोत्सव समारोह में श्री लक्ष्मी-नारायण व श्री गणेश की चैतन्य झांकियों के सामने दीप जलाकर कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

मौके पर उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आलौकिक प्रकाश से सम्पन्न आत्माएं कभी किसी के मन को पीड़ा नहीं दे सकती हैं। जगत की सभी समस्याओं का मूल कारण आध्यात्मिक दरिद्रता है। दीपावली की प्रकाश पर्व अन्दर की दरिद्रता समाप्त करके ज्ञान, गुण और शक्तियों की सम्पन्नता लाने का संदेश देता है। उन्होंने कहा कि दीप जलाकर हम ज्ञानरत्न धन की कामना करते हैं ताकि अज्ञान का तामस् जिन्दगी से चला जाए। जीवन में ज्ञान जागृति न होने से ही मनुष्य चोरी और गुनाह करता है। बताया कि मिथ्या समझ के कारण समाज में ये गलतियां हो रही है। ईष्वरीय ज्ञान का प्रकाश ही स्वच्छता और पारदर्शिता लायेगा। ईष्वरीय ज्ञान से जागृत आत्माओं के सम्पूर्ण प्रकाश में अत्याचार, पोषण व भ्रष्टाचार जैसी काली प्रवृतियां समाप्त हो जाएगी व विश्व के कोने-कोने में शांति, प्रेम व भाईचारे की भावनाएं जागृत होगी।

धन-वैभव की लालच में नष्ट हो रहा आत्मा का दिव्य तेज

केन्द्र संचालिका ब्रह्माकुमारी शीला बहन ने कहा कि वर्तमान समय का मानव धन-वैभव की लिप्सा में आत्मा के दिव्य तेज को नष्ट कर रहा है या आच्छादित कर रहा है। ज्ञानयोग के बल से आलोकित मानव की उच्च आध्यात्मिक स्थिति से वैभवशाली बन दैवी स्वराज्य की स्थापना करेगा। कहा कि कमल पुष्प समान अनासक्त बन श्री लक्ष्मी का आह्वान करने की जगह हम मिट्टी के दीप जलाते रहते हैं। इसी कारण समाज की समृद्धि रूपी लक्ष्मी रूठ गयी है। आध्यात्मिक रूप से सशक्त नारी ही वर्तमान की दुर्गा और भविष्य की धन लक्ष्मी है। चर्च कम्युनिटी राजन शाह ने कहा अब इस भारत भूमि को जगमग करने के लिए परम ज्योति निराकार परमात्मा का अवतरण हुआ है। कहा कि आज से पांॅच हजार वर्ष पूर्व अति सुखकारी समय था और हर दिन खुशियों के दीपक जलते थे। भारत देश पूर्व की भांति अब फिर से शिरोमणि और जगतगुरु का स्थान प्राप्त करेगा और इसी भारत देश से ईश्वरीय अध्यात्म की दैदीप्यमान किरणें सम्पूर्ण भू-मण्डल को प्रकाशि करेंगी। मौके पर डीएम ऑफिस के कपिल प्रसाद अादि उपस्थित थे। बता दें कि इस संस्थान में हरेक दिन ईश्वरीय ज्ञान व राजयोग का निःशुल्क प्रवचनमाला व प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित होते हैं।

खबरें और भी हैं...