पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Gaya
  • There Is No Door Nor Window, No Arrangement For Toilet, Yet Polling Will Take Place In A Dilapidated Building

अनदेखी:ना दरवाजे है और न ही खिड़की, शौचालय तक की व्यवस्था नहीं, फिर भी जर्जर भवन में होगा मतदान

गया8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चुनाव आयोग के निर्देश पर भी लगा ग्रहण, मानपुर में मतदान केंद्रों की स्थिति बद से बदतर

वैश्विक महामारी कोरोना को देखते हुए चुनाव आयोग द्वारा बेहतरीन माहौल में चुनाव करने का निर्देश दिया है। बावजूद इसके मानपुर में मतदान केंद्रों की स्थिति बद से बदतर है। मतदान केंद्रों पर ना तो दरवाजे है और ना ही खिड़की। उन केंद्रों पर शौचालय, बिजली-पानी का बात करना भी बेमानी है। मामला उसरी पंचायत के बूथ संख्या 64 प्राथमिक विद्यालय हुडराही का है। निर्माण काल से लेकर समाचार प्रेषण तक विद्यालय के दीवारों पर प्लास्तर तक नहीं हुआ है। पांच फीट गड्ढे में बच्चे पढ़ने को विवश हैं और शौचालय लगने अथवा पानी पीने को घर जाना पड़ता है।

इस तरह के विद्यालय में मतदान केंद्र बनाया जाना चुनाव आयोग के निर्देशों का माखौल है। ग्रामीणों ने बताया कि प्रभारी महोदय के निर्देश पर मतदान केंद्र बनाए जाने के बाद मिट्टी लाकर बरामदे की भराई हुई है। उन्होंने बताया कि विद्यालय में एकमात्र चापाकल है, जो वर्षों से खराब है। रखरखाव के अभाव में शौचालय अस्तित्वहीन है। इस बाबत सम्पर्क करने पर एआरओ सह बीडीओ अभय कुमार ने बताया कि मतदानकर्मियों व मतदाताओं के लिए मूलभूत सुविधाओं की बहाली के लिए कदम उठाएं जा रहे हैं।

मतदान प्रशिक्षण को डम्मी बूथ बना पशुओं का बसेरा

प्रखंड कार्यालय परिसर में बना डम्मी मतदान केंद्र निर्माण के बाद गाय बकरी का बसेरा बना हुआ है। कोरोना काल में सुरक्षा व व्यक्तिगत दूरी के साथ मतदान प्रक्रिया समझाने को बने केंद्र में कोई क्रियाकलाप संचालित नहीं है। इसके कारण उसमें आवारा पशु अपना रैन बसेरा जमाए बैठे है। डम्मी मतदान की पूरी प्रक्रिया का संचालन करके मतदाताओं को दिखाया जा सके, लेकिन ठीक इसके विपरीत डम्मी मतदान केंद्र का कोई उपयोग नहीं दिख रहा है।

खबरें और भी हैं...