2 महीने के मासूम को लेकर भटकते रहे परिजन:गोपालगंज में इलाज के अभाव में निकल गई मासूम की जान

गोपालगंज5 महीने पहले

गोपालगंज सदर अस्पताल में डॉक्टरों की लापरवाही का एक मासूम शिकार हो गया। इसके बाद उसकी मौत हो गई। मृतक मासूम बैकुंठपुर थाना क्षेत्र के मीरा टोला गांव निवासी अशरफ अली का 2 माह का बेटा बताया जाता है। वहीं, बच्चे की मौत के बाद परिजनों ने आक्रोश व्यक्त किया है। डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

दरअसल गोपालगंज सदर अस्पताल अपने कारनामो को लेकर हमेशा ही सुर्खियों में रहा है और एक बार फिर डॉक्टर की लापरवाही के कारण 2 मासूम बच्चे की जान चली गई। वहीं आक्रोशित परिजनों ने नाराजगी जताते हुए आरोप लगाया कि सदर अस्पताल में मौजूद डॉक्टर के द्वारा इलाज में लापरवाही की गई जिससे 2 माह की बच्चे की मौत हो गई। मृतक बच्चा बैकुंठपुर थाना क्षेत्र के मीरा टोला गांव निवासी अशरफ अली का 2 माह का पुत्र था।

मृतक के नाना असरफ नैयर ने बताया कि की 2 माह पहले बच्चे की ऑपरेशन से जन्म हुआ है। डेढ़ दो साल बाद काफी ईलाज के बाद बच्चे का जन्म हुआ था परिवार के लोग काफी खुश थे लेकिन देर रात उसकी तबीयत थोड़ी बिगड़ गई एक दो उल्टी हुआ इसके बाद ठीक हो गया। लेकिन जब उसे इलाज कराने के लिए अस्पताल लाया गया तो उसे दो घंटे तक इधर उधर दौड़ाया गया। कभी इमर्जेंसी वार्ड कभी एसएनसीयू तो कभी पीकू वार्ड तो कभी आईसीयू।

लेकिन, कहीं डॉक्टर नहीं तो कहीं इधर-उधर जाने की सलाह दी जाती। अंत मे जब इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टर चेम्बर में ना बैठ कर अन्य जगह बैठकर कुछ लोगो से बात करने में मशगूल रहे तब तक बच्चे की स्थिति गम्भीर होती गई और आरोप है कि इलाज में देरी करते हुए डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया तभी परिजन आक्रोशित होकर नाराजगी जताते हुए हंगामा किये लेकिन बाद में मामला शांत हुआ।