गोपालगंज में सरकारी स्कूल में जांच करने पहुंचे अफसर:बच्चों को क्लास में छोड़ गहरी नींद में मिले गुरुजी, फिर बीडीओ ने छात्रों को पढ़ाया

गोपालगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गोपालगंज जिले के बिहार के गोपालगंज की यह तस्वीर शिक्षा व्यवस्था की पोल खोल रही है। तस्वीर बैकुंठपुर प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय दिघवा की है। यहां शुक्रवार को क्लास रूम में छात्रों को पढ़ाने की बजाय गुरुजी (शिक्षक) खर्राटा ले रहे थे। इधर, शिक्षा विभाग के निर्देश पर बैकुंठपुर के बीडीओ अशोक कुमार जांच करने पहुंच गये। नजारा देखकर बीडीओ साहब के होश उड़ गये। क्लास रूम में बच्चे खेल रहे थे। बीडीओ साहब ने बच्चों से कहा कि आपको आज मैं पढ़ाता हूं। सभी बच्चे अपने सीट पर बैठ गये।

बीडीओ ने करीब 40 मिनट तक छात्रों को पढ़ाया। उसके बाद भी गुरुजी का कुंभकरणी नींद नहीं खुला तो उनको जगाया गया। नींद खुली तो सामने बीडीओ साहब को देख गुरुजी सन्न रह गये। बीडीओ ने उनको समझाकर बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ नहीं करने हिदायत दी। निरीक्षण के दौरान स्कूल की दुर्दशा को गंभीरता से लेते हुए बीडीओ ने इस मामले में कार्रवाई की अनुसंशा करने की बात कही है।

बीडीओ अशोक कुमार ने बताया कि आदेश आने के साथ ही स्कूल की जांच करने पहुंचे तो चौकाने वाला नजारा सामने आया। ऐसी गलती दुबारा न हो, इसके लिए शिक्षक को हिदायत दी गयी। बता दे कि शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव द्वारा स्कूलों की जांच के लिए निर्देश दिया गया था। जिसके बाद आज जिला प्रशासन के अधिकारियों ने स्कूलों में जांच अभियान चलाया। निर्देश दिया गया था जिसके बाद आज जिला प्रशासन के अधिकारियों ने स्कूलों में जांच अभियान चलाया।